इन कारणों से हो सकती हैं सांस लेने में दिक्कत, ख्याल न रखने पर बढ़ सकती है समस्या

जीने के लिए सबसे महत्वपूर्ण है हमारी सांसें। अगर ये न हो तो हम ज़िंदा ही नहीं रह पाएंगे। लेकिन बहुत से लोगों को सांस लेने की समस्या होती है। वहीं बहुत से लोग इसका मुख्य कारण नहीं समझ पाते हैं। क्यूंकि उनके लिए ना तो इस बीमारी के लक्षण साफ होते हैं और ना ही उन्हें अपनी समस्या के कारण के बारे में पता होता है। लेकिन शुरुआती स्तर पर इस बीमारी को अनदेखा कर दिया जाए तो यह और बढ़ सकती है और आपके लिए समस्या बढ़ा सकती हैं। तो आइए जानें सांस लेने में होने वाली समस्या के तीन मुख्य कारणों के बारे में…

तनाव के कारण-
तनाव लेना सेहत के लिए बहुत हानिकारक होता है। बहुत अधिक तनाव में रहते हैं, उन्हें अक्सर सांस लेने में समस्या होती है। ज़्यादा तनाव लेने वाले लोग या तो बहुत जल्दी-जल्दी सांस लेते हैं या सीने में भारीपन का अहसास होने के कारण उन्हें सांस लेने में तकलीफ होती है। इस कारण उनके फेफड़ों में पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन नहीं पहुंच पाता है।

बहुत ज़्यादा वज़न-
सांस लेने में तकलीफ होने का कारण आपका वज़न भी हो सकता है। जिन लोगों का वजन बहुत अधिक होता है, उन्हें भी सांस लेने में दिक्कत होती है और उनकी सांसें भी बहुत अधिक फूलती है। इसलिए अपने वज़न को कण्ट्रोल में रखना बेहद ज़रूरी होता है। 

सूजन और इंफेक्शन-
सांस लेने में दिक्कत होने की वजह सांस की नली में सूजन, किसी इंफेक्शन या किसी अन्य कारण से जब ऑक्सीजन पर्याप्त मात्रा में शरीर के अंदर प्रवेश नहीं करना भी होता है। अगर यह बीमारी लंबे समय से चली आ रही है तो अस्थमा, निमोनिया या क्रॉनिक ऑब्सट्रक्टिव पल्मोनरी डिसीज़ (सीओपीडी) के लक्षण भी हो सकते हैं।