Biden went ahead without the help of Trump's intelligence team in the presidential election

नई दिल्ली. भारतीय उद्योग जगत ने अमेरिका के राष्ट्रपति चुनाव में जो बाइडेन (Joe Biden) की जीत का स्वागत करते हुए कहा कि ‘एक लोकतांत्रिक प्रक्रिया ने बदलाव के लिए वोट किया’ है। इसके साथ ही उद्योग जगत ने उम्मीद जताई कि बाइडेन के नेतृत्व में भारत-अमेरिका के बीच संबंध और सहयोग और मजबूत हो सकेगा। भारतीय उद्योग परिसंघ (Confederation of Indian Industry) के महानिदेशक चंद्रजीत बनर्जी (Director General Chandrajit Banerjee) ने निर्वाचित राष्ट्रपति बाइडेन और निर्वाचित उपराष्ट्रपति कमला हैरिस (Vice President Kamala Harris) को बधाई देते हुए कहा, ‘‘हम राष्ट्रपति बाइडेन और उनके प्रशासन के साथ एक बार फिर सहयोग की उम्मीद कर रहे हैं।”

उन्होंने कहा कि कोविड-19 (Covid-19) की वजह से पैदा हुई अड़चनों से पहले दोनों देशों के बीच वस्तुओं और सेवाओं का द्विपक्षीय व्यापार 2019 में करीब 150 अरब डॉलर पर पहुंच गया था। हमें उम्मीद है कि आगामी वर्षों में यह और बढ़ेगा। बनर्जी ने कहा, ‘‘नए दौर में आर्थिक सहयोग में नई ऊर्जा का संचार कर हम इसमें 500 अरब डॉलर के साझा लक्ष्य को हासिल कर सकते हैं।” उन्होंने कहा कि ऊर्जा और हरित अर्थव्यवस्था ऐसे क्षेत्र हैं जिसमें दोनों देश आपसी संबंधों को और आगे बढ़ा सकते हैं।

अमेरिका-भारत व्यापार परिषद (यूएसआईबीसी) ने कहा है कि बाइडेन ने बराक ओबामा प्रशासन में अमेरिका-भारत के रणनीतिक संबंधों को आगे बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। परिषद ने कहा कि हम बाइडेन-कमला हैरिस प्रशासन के साथ काम करने को लेकर उत्साहित हैं। हमें उम्मीद है कि उनके नेतृत्व में अमेरिका-भारत आर्थिक भागीदारी अपनी पूरी क्षमता हासिल कर पाएगी और इससे दोनों देशों के नागरिकों के लिए अवसर पैदा होंगे।

जेएसडब्ल्यू ग्रुप के चेयरमैन सज्जन जिंदल ने ट्वीट किया, ‘‘एक लोकतांत्रिक प्रक्रिया ने बदलाव के लिए वोट किया है। अमेरिकी समुदाय को इसके लिए बधाई जिसने एक कठिन बाहरी वातावरण में सुनिश्चित किया कि लोकतांत्रिक प्रक्रिया से किसी तरह का समझौता नहीं किया जा सके। इसी तरह जेएसपीाल के चेयरमैन नवीन जिंदल ने भी ट्वीट कर बाइडेन और हैरिस को बधाई दी है। उन्होंने कहा कि उम्मीद है कि इससे भारत और अमेरिका के बीच सहयोग और संबंध और मजबूत हो सकेगा।(एजेंसी)