rahul gandhi
File Pic

    नई दिल्ली: सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) की अध्यक्षता में हुई अखिल भारतीय कांग्रेस वर्किंग कमेटी (Congress Working Committee) की बैठक समाप्त हो गई है। इस बैठक में राहुल गांधी, प्रियंका गांधी, केसी वेणुगोपाल सहित 52 सदस्य शामिल हुए। इस दौरान राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gahlot) ने राहुल गांधी (Rahul Gandhi) को पुनः कांग्रेस पार्टी का अध्यक्ष बनाने का प्रस्ताव रखा। जिसे सभी ने सर्वसम्मति से पास किया गया। 

    अध्यक्ष बनने का करूँगा विचार 

    सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, सीडब्ल्यूसी की बैठक में वरिष्ठ नेताओं के अध्यक्ष बनने के अनुरोध पर राहुल गांधी ने कहा, ‘मैं विचार करूंगा।” उन्होंने यह भी कहा कि, “उन्हें पार्टी नेताओं से विचारधारा के स्तर पर स्पष्टता की जरूरत है।” कुछ नेताओं ने कहा कि, “चुनाव तक उन्हें कार्यकारी अध्यक्ष बनाया जाए।”

    बैठक में तीन प्रस्ताव पास 

    सीडब्लूसी बैठक में लिए निर्णय की जानकारी देते हुए केसी वेणुगोपाल ने कहा, “हमने 3 प्रस्ताव पारित किए – राजनीतिक स्थिति पर, मुद्रास्फीति पर और तीव्र कृषि संकट और भारत के किसानों पर शैतानी हमले पर।” 

    उन्होंने कहा, “ऊपर से नीचे तक एक व्यापक प्रशिक्षण कार्यक्रम के लिए जा रहे हैं। सभी स्तरों पर कार्यकर्ताओं और नेताओं को पार्टी की विचारधाराओं, नीतियों, एक कांग्रेस कार्यकर्ता की अपेक्षाओं, जमीनी स्तर पर संदेश भेजने, चुनाव एमजीएमटी, वर्तमान सरकार की विफलता और प्रचार का मुकाबला करने में प्रशिक्षित किया जाएगा।”

    अगले साल होगा चुनाव 

    पार्टी में चुनाव की तारीखों का ऐलान करते हुए वेणुगोपाल ने कहा, “एआईसीसी अध्यक्ष का चुनाव 21 अगस्त 2022 से 20 सितंबर 2022 के बीच होगा।”

    रघु शर्मा ने कपिल सिब्बल पर बोला हमला 

    राजस्थान सरकार में मंत्री रघु शर्मा ने कपिल सिब्बल पर हमला बोला है। उन्होंने कहा, “क्या इस तरह की बातचीत से कांग्रेस मजबूत होती है? अगर आप खुद प्रेस कांफ्रेंस करते हैं और बाहर की बातें कहते हैं जो आपको नेतृत्व के सामने कहनी चाहिए, तो क्या इससे पार्टी मजबूत होगी? अनुशासन महत्वपूर्ण है।”

    उन्होंने आगे कहा, “जो करना होगा, आलाकमान करेगा, लेकिन मैं सड़क पर किसी के बोलने से सहमत नहीं हूं। हाईकमान के सामने सही मंच पर बोलें और सुझाव दें। लेकिन अगर आप खुद को पार्टी के अनुशासन से ऊपर मानते हैं तो यह सही नहीं है।”