encounter
File Photo

    श्रीनगर. कश्मीर (Kashmir) के पुलिस महानिरीक्षक विजय कुमार ने शनिवार को कहा कि अनंतनाग मुठभेड़ (Anantnaag Encounter) में मारे गए तीन आतंकवादियों (Terrorist) में से एक की डीएनए जांच (DNA Test) कराई जाएगी क्योंकि उसकी तस्वीर 2019 के पुलवामा आत्मघाती हमले में शामिल अंतिम जीवित बचे आतंकवादी की तस्वीर से मिलती-जुलती है। उल्लेखनीय है कि पुलवामा आतंकवादी हमले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के 40 जवान शहीद हो गए थे।

    कुमार ने कहा कि मारे गए आतंकवादी की तस्वीर जैश-ए-मोहम्मद के शीर्ष कमांडर समीर डार से मेल खाती है। पुलिस महानिरीक्षक ने ट्विटर पर कहा, “अनंतनाग मुठभेड़ में 30 दिसंबर को मारे गए आतंकवादियों में से एक की तस्वीर जैश-ए-मोहम्मद के शीर्ष कमांडर समीर डार से मेल खाती है जो लेथपुरा, पुलवामा आतंकवादी हमले में शामिल अंतिम जीवित आतंकवादी था। डीएनए जांच कराई जाएगी।”

    पुलिस ने कहा था कि बृहस्पतिवार को दक्षिण कश्मीर जिले के नौगाम दूरू इलाके में हुई मुठभेड़ में जैश के तीन आतंकवादी मारे गए और मुठभेड़ स्थल से उनके शव बरामद कर लिए गए। उस समय पुलिस ने मारे गए आतंकवादियों की पहचान सुल्तान उर्फ रईस उर्फ माविया (एक विदेशी आतंकवादी), दुदवांगन कापरान निवासी निसार अहमद खांडे और नाथीपुरा दूरू निवासी अल्ताफ अहमद शाह के रूप में की थी। पुलिस महानिरीक्षक ने कहा कि शाह और सुल्तान एक अन्य आतंकवादी सुहैल राठर के साथ जेवान, श्रीनगर में एक हमले में शामिल थे जिसमें तीन पुलिसकर्मी मारे गए थे और 11 अन्य घायल हो गए थे। राठर शनिवार को पंटाह चौक पर एक अलग मुठभेड़ में मारा गया।