Election Commission Notice Congress And BJP on PM Modi And Rahul Gandhi Speech
PM मोदी और राहुल गांधी

Loading

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections) 2024 के लिए राजनेताओं की खूब तीखी सियासी बयानबाजी हो रही है। पीएम मोदी रैलियों के दौरान कांग्रेस और INDI गठबंधन पर दूसरी ओर कांग्रेस नेता राहुल गांधी भी बीजेपी को लेकर हमलावर हैं। दोनों नेताओं के बयानों के खिलाफ चुनाव आयोग में शिकायत दर्ज करवाई गई है।

चुनाव आयोग ने 29 अप्रैल का दिया समय

बीजेपी और कांग्रेस दोनों ने धर्म, जाति, समुदाय और भाषा के आधार पर नफरत और विभाजन पैदा करने का आरोप लगाया है। चुनाव आयोग ने इस मामले पर 29 अप्रैल के सुबह 11 बजे तक जवाब मांगा है। पीएम मोदी के कई भाषणों पर विपक्ष ने आपत्ति जाहिर करते हुए चुनाव आयोग का रुख किया है।

पीएम मोदी पर MCC का आरोप

विपक्ष ने आरोप लगाए कि पीएम मोदी ने अपने भाषणों में आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन (MCC) किया है। कुछ दिनों पीएम मोदी ने उत्तर प्रदेश के पीलीभीत में एक चुनावी रैली को संबोधित किया था, जिसमें उन्होंने राम मंदिर और करतारपुर कॉरिडोर का जिक्र किया था।

सुप्रीम कोर्ट के वकील ने दर्ज कराई थी शिकायत

इस मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट के वकील आनंद एस. जोनदाले ने शिकायत दर्ज करवाई थी। आज चुनाव आयोग ने इन शिकायतों पर फैसला सुनाया है। चुनाव आयोग ने कहा कि वह राम मंदिर के निर्माण का जिक्र को धर्म के आधार पर वोट की अपील नहीं मानता है।