corona

नयी दिल्ली. अभी आ रही ख़बरों के अनुसार भारत (India) में कोरोना वायरस (Corona) के नए स्ट्रेन (Corona Strain) के अब तक कुल 6 केस मिले हैं। आज यानि मंगलवार को भारत सरकार (GOI) की ओर से इस बाबत  जानकारी दी गई है। बताया जा रहा है कि यूनाइटेड किंगडम (United Kingdom) से लौटे 6 लोगों में यह नया स्ट्रेन मिला है। इनमें से तीन बेंगलुरु, 2 हैदराबाद और एक पुणे की लैब के सैंपल में नया कोरोना स्ट्रेन मिला है।

दरअसल स्वस्थ मंत्रालय ब्रिटेन से भारत लौटे छह लोगों के नमूनों में सार्स-सीओवी2 का नया स्वरूप (स्ट्रेन) पाया गया है। यूनाइटेड किंगडम (UK) से आए लोगों की जीनोम स्किवेंसिंग की गई थी, जिसकी रिपोर्ट आज यानि मंगलवार को जारी की गई है। जिसमें अलग-अलग लैब में टेस्ट किए गए सेक्शन के बारे में भी बताया गया है । 

कहां हैं नये कोरोना “स्ट्रेन” के लक्षण?

गौरतलब है कि 25 नवंबर से 23 दिसंबर तक यूनाइटेड किंगडम (UK) से करीब 33 हजार लोग वापस आए थे। इन सभी को ट्रैक किया गया और उनका टेस्ट भी करवाया गया। इनमें से कुल 114 लोग कोरोना पॉजिटिव निकले थे। जिसके बाद इन सभी लोगों के के सैंपलों को देश की 10 बड़ी लैब (कोलकाता, भुवनेश्वर, NIV पुणे, CCS पुणे, CCMB हैदराबाद, CCFD हैदराबाद, InSTEM बेंगलुरु, NIMHANS Bengaluru, IGIB Delhi, NCDC Delhi) में भेजा दिया गया था।

गौरतलब है कि इनमें से कुल 6 लोगों के सैंपल में कोरोना का नया ‘स्ट्रेन’ मिला है। इन सभी लोगों को फिलहाल राज्य सरकार द्वारा एक ‘सेल्फ आइसोलेशन’ रूम में रखा गया है। जबकि उनके संपर्क में आए लोगों को भी क्वारनटीन किया गया है, जबकि अन्य ट्रैवलर्स की जानकारी ली जा रही है।

UK से आने वाली सभी फ्लाइट पर रोक: 

वहीं सरकार की ओर से साथ ही यह जानकारी दी गई है कि 23 दिसंबर से 31 दिसंबर तक यूनाइटेड किंगडम (UK) से आने वाली सभी फ्लाइट पर अब रोक लगा दी गई है। यूनाइटेड किंगडम (UK) से वापस आ रहे लोगों का RT-PCR भी टेस्ट किया जा रहा है, जिसके बाद उनके सैंपल की जीनोम सीक्वेंसिंग जांची जा रही है। कोरोना के नए स्ट्रेन की जानकारी होने के बाद ही नेशनल टास्क फोर्स ने बड़ी बैठक की और तैयारियों का जायजा भी लिया है। 

बता दें कि कोरोना के नए ‘स्ट्रेन’ की खोज ब्रिटेन से हुई थी, जिसके बाद यूरोप के कई देशों में इसके विभिन्न मामले सामने आये हैं। अभी तक की मिली जानकारी के अनुसार, डेनमार्क, नीदरलैंड, ऑस्ट्रेलिया, इटली, स्वीडन, फ्रांस, स्पेन, स्विट्जरलैंड, जर्मनी, कनाडा, जापान, लेबनान, सिंगापुर में कोरोना के नए ‘स्ट्रेन’ के केसेस मिल चुके हैं।