मंत्री मनसुख मांडविया ने CGHS मुख्यालय में ई-संजीवनी हब में टेलीफोन पर परामर्श सेवाओं की समीक्षा की

    नई दिल्ली: केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया (Mansukh Mandaviy) ने यहां सीजीएचएस मुख्यालय ( CGHS Headquarters) में ई-संजीवनी हब (e-Sanjeevani Hub) का दौरा कर वहां टेलीफोन पर प्रदान की जा रही परामर्श सेवाओं की समीक्षा की। मांडविया ने दूरभाष परामर्श प्रदान ( Telephonic Counseling Services) कर रहे डॉक्टरों से बातचीत की और कुछ सत्रों का व्यक्तिगत रूप से मुआयना किया।

    उन्होंने लोगों से कोविड-19 महामारी के दौरान इन डिजिटल मंचों का और अधिक उपयोग करने की अपील की, जिससे वे घरों से बाहर निकले बिना स्वास्थ्य देखभाल सेवाओं का लाभ उठा सकेंगे।

    टेली-परामर्श के डिजिटल प्लेटफॉर्म के माध्यम से प्रदान की जा रहीं स्वास्थ्य सेवाओं की सराहना करते हुए मांडविया ने कहा, ‘‘ई-संजीवनी देश में स्वास्थ्य क्षेत्र में एक क्रांति है। यह प्रधानमंत्री की दूरदृष्टि के अनुरूप किफायती और सुगम स्वास्थ्य सुविधा प्रदान कर रही है।”

    उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्रियों के साथ बृहस्पतिवार की समीक्षा बैठक में प्रधानमंत्री ने इस बात को रेखांकित किया था कि दूर-चिकित्सा सुविधाओं से जरूरतमंदों को स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करने में बड़ी मदद मिलेगी।

    मांडविया ने कहा, ‘‘इस मंच के उपयोग से जमीनी स्तर पर डॉक्टरों और विशेषज्ञों की कमी पर ध्यान केंद्रित किया जा रहा है, वहीं दूसरे और तीसरे स्तर के अस्पतालों में बोझ कम हो रहा है।” (एजेंसी)