Modi government

नई दिल्ली: केंद्रीय मंत्रिमंडल (Central Cabinet) ने फिल्‍म डिवीजन (Film Division), फिल्‍म समारोह निदेशालय (Directorate of Film Festivals), भारतीय राष्‍ट्रीय फिल्‍म अभिलेखागार (National Film Archives of India), बाल फिल्‍म सोसायटी (Children’s Film Society) और राष्ट्रीय फिल्म विकास निगम National Film Development Corporation (एनएफडीसी) (NFDC) के विलय को मंजूरी दे दी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) की अध्यक्षता में हुई केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में इस आशय के प्रस्ताव को मंजूरी दी गई। सरकारी विज्ञप्ति के अनुसार, बुनियादी ढांचा, मानव शक्ति और अन्य संसाधनों को युक्तिसंगत बनाने के उद्देश्य से इन फिल्म मीडिया इकाइयों के विलय को मंजूरी दी गई।

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर (Prakash Javadekar) ने बताया कि, फिल्‍म मीडिया इकाइयों के एक निगम के अंतर्गत विलय से कार्यों और साधनों में एकरूपता आएगी और बेहतर समन्‍वय स्‍थापित होगा जिससे प्रत्‍येक मीडिया इकाई द्वारा आदेश पत्र हासिल करने में एकरूपता और कुशलता सुनिश्चित हो सकेगी।

मंत्रालय ने कहा कि एकरूपता का कार्य करते समय सभी संबद्ध मीडिया इकाइयों के कर्मचारियों के हितों की रक्षा की जाएगी और किसी भी कर्मचारी को हटाया नहीं जाएगा। प्रमुख संगठन फिल्‍म मीडिया इकाइयों के विलय के परिणामस्‍वरूप एनएफडीसी को एक प्रबंधन के अंतर्गत फिल्‍म की विषयवस्‍तु के प्रचार निर्माण और उसे सुरक्षित रखने के संबंध में अलग ढंग से रखा जाएगा।