Sunil Jakhar

    नई दिल्ली. पंजाब में नए मुख्यमंत्री के तौर पर चरणजीत सिंह चन्नी (Charanjit Singh Channi) ने आज शपथ ली है। जिसके बाद एक प्रेस कांफ्रेंस में हरीश रावत के एक बयान से पंजाब कांग्रेस में फिर विवाद शुरू हो गया है। दरअसल हरीश रावत (Harish Rawat) ने पंजाब में अगला चुनाव नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) के नेतृत्व में लड़ने की बात कही है। जिस पर अब कांग्रेस नेता सुनील जाखड़ भड़क उठे हैं।

    जाखड़ ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर ट्वीट कर कहा कि, “चरणजीत सिंह चन्‍नी के सीएम पद के लिए शपथ ग्रहण वाले दिन रावत (हरीश रावत) का यह बयान कि चुनाव सिद्धू (नवजोत सिंह सिद्धू) के नेतृत्‍व में लड़े जाएंगे, चौंकाने वाला है। इससे न केवल सीएम के अधिकार को न सिर्फ कम कर सकता है बल्कि इस पद पर उनके चुनाव पर भी सवाल उठाता है।”

    वहीं मीडिया से बात करते हुए उन्होंने अपने ट्वीट पर कहा, “मैंने एक कांग्रेसी के रूप में अपनी चिंता व्यक्त की और मेरा मानना है कि इस तरह की टिप्पणियों से बचा जा सकता है। आज हाईकमान ने यह भी घोषणा की कि अगला चुनाव चन्नी और सिद्धू के संयुक्त नेतृत्व में और सोनिया और राहुल गांधी की देखरेख में लड़ा जाएगा।”

    गौरतलब है कि हरीश रावत ने रविवार को कहा था कि, “आगामी पंजाब विधानसभा चुनाव कांग्रेस नवजोत सिंह सिद्धू की अगुवाई में लड़ेगी। हालांकि इसका निर्णय कांग्रेस अध्यक्ष लेंगी लेकिन मौजूदा स्थितियों में प्रदेश कांग्रेस कमेटी के तहत सीएम कैबिनेट के साथ चुनाव लड़ा जाएगा जिसके प्रमुख सिद्धू बेहद लोकप्रिय हैं।”