भारत में ओमीक्रॉन संक्रमितों की पहुंची 961, स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा- 90 प्रतिशत आबादी को लगी टीके की पहली डोज

    नई दिल्ली: देश में ओमीक्रॉन वेरियंट का खतरा लगातार बढ़ता जारहा है। भारत में अभी तक इस वेरियंट के 961 मामले सामने आचुके हैं, जिनमेंसे 320 ठीक होकर स्वास्थ्य हो चुके हैं। इस बात की जानकारी गुरुवार को आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने दी। 

    देश में रोजाना 10,000 मामले आ रहे 

    स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया, “भारत में पिछले सप्ताह औसतन 8,000 से अधिक मामले प्रति दिन दर्ज किए गए। कुल मिलाकर मामले की सकारात्मकता दर 0.92% है। 26 दिसंबर से, देश में रोजाना 10,000 मामले सामने आ रहे हैं।”

    उन्होंने कहा, “मिजोरम के 6 जिलों, अरुणाचल प्रदेश के एक जिले, पश्चिम बंगाल के कोलकाता सहित 8 जिलों में 10% से अधिक की साप्ताहिक सकारात्मकता दर नोट की जा रही है। 14 जिलों में साप्ताहिक मामले की सकारात्मकता दर 5-10% के बीच है।”

    महाराष्ट्र में पॉजिटिविटी रेट में बड़ी बढ़ौती

     लव अग्रवाल ने कहा, “पिछले 33 दिनों बाद देश में फिर से 10,000 से ज़्यादा मामले रिपोर्ट होने शुरू हुए हैं।  महाराष्ट्र और केरल में 10,000 से ज़्यादा सक्रिय मामले हैं।” महाराष्ट्र में बढ़ते मामलों को देखते हुए अग्रवाल ने आगे कहा, “महाराष्ट्र में 9 दिसंबर के हफ़्ते में पॉजिटिविटी 0.76% थी, वो एक महीने में बढ़कर लगभग 2.59% हो गई है। पश्चिम बंगाल में भी 1.61% केस पॉजिटिविटी अब बढ़कर लगभग 3.1% हो गई है।”

    ओमीक्रॉन के 320 मरीज हुए स्वस्थ 

    अग्रवाल ने कहा, “भारत में #Omicron प्रकार के कोरोनावायरस के 961 मामले हैं, जिनमें से 320 रोगी ठीक हो चुके हैं। उन्होंने कहा, “पूरी दुनिया में 121 देशों में एक महीने में ओमिक्रोन के 3,30,000 से ज़्यादा मामले और कुल 59 मौतें रिपोर्ट की गई हैं।”

    उन्होंने आगे कहा, “दक्षिण अफ्रीका में मामलों में बढ़ोतरी के बाद अब फिर से कमी दर्ज़ की जा रही है।”

    बुजुर्गो को एसएमएस से दिलाएंगे याद 

    स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा, भारत में लगभग 90% वयस्क आबादी को पहली खुराक के साथ COVID-19 के खिलाफ टीका लगाया गया है।” वहीं 10 तारीख से शुरू होने वाले थर्ड डोज पर अग्रवाल ने कहा, “10 जनवरी से शुरू होने वाली एहतियाती खुराक लेने के लिए सरकार पात्र बुजुर्ग आबादी को एसएमएस भेजकर उन्हें याद दिलाएगी।”