तृणमूल ने छीना मेरा प्यार, सौमित्र खान सुजाता मंडल को देंगे तलाक

कोलकाता: पश्चिम बंगाल चुनाव (Bengal Assembly Election) में राजनीतिक सरगर्मी तेज हो गई है. चुनाव के पहले नेताओं के दल बदल का दौर शुरू है. सोमवार को भाजपा (BJP) को झटका देते हुए बिशुनपुर से सांसद सौमित्र खान (Saumitra Khan) की पत्नी सुजाता मंडल (Sujata Mandal) टीएमसी (TMC) में शामिल हो गईं। पत्नी के विपक्षी पार्टी में शामिल होने के बाद खान ने टीएमसी पर प्यार छीनने का आरोप लगाते हुए तलाक देने की बात कह दी है।

पत्नी ने दिया टीएमसी का साथ

एक निजी समाचार चैनल से बात करते हुए सौमित्र खान ने कहा, “तृणमूल कांग्रेस ने मेरा प्यार छीन लिया है और मेरी पत्नी ने भी उनका साथ दिया। इसलिए मेरे लिए सबसे अच्छा बेहतर यही होगा की मैं उन्हें तलाक दे दू।”

खान उपनाम का इस्तेमाल ना करे 

खान ने कहा, “मैं उनसे अनुरोध करूंगा कि वह ‘खान’ उपनाम का इस्तेमाल करना बंद कर दें। मैं आज सुजाता के साथ सभी संबंधों को समाप्त कर रहा हूं। मैं उसे तलाक का नोटिस भेज रहा हूं। मैं मीडिया से भी अनुरोध करता हूं कि वह उन्हें ‘खान’ के रूप में लेबल न करें।”

बेमेल और भ्रष्ट नेताओं’ को मिल रही तरजीह 

ज्ञात हो कि सोमवार को सुजाता ने कोलकाता में टीएमसी के वरिष्ठ नेता सौगात राय की मौजूदगी में टीएमसी में शामिल होगई। पार्टी में शामिल होने के बाद मंडल ने भाजपा पर ज़ोरदार हमला किया। उन्होंने दावा किया कि 2019 के लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections) में अपने पति को जिताने के लिए कई जोखिम उठाने के बावजूद उन्हें वाजिब पहचान नहीं मिली। सुजाता मंडल ने आरोप लगाया कि भाजपा में ‘नए-नए शामिल हुए, बेमेल और भ्रष्ट नेताओं’ को निष्ठावानों से ज्यादा तरजीह मिल रही है।

शुभेंदु अधिकारी के शामिल होने से थी नाराज 

मिली जानकारी के अनुसार सियासी गलियारों में चल रही खबर के अनुसार सुजाता मंडल का टीएमसी में शामिल होने के पीछे शुभेंदु अधिकारी है। दरअसल, मंडल टीएमसी के पूर्व अधिकारी के भाजपा में शामिल होने से नाराज चल रही थी। जिसके कारण उन्होंने यह कदम उठाया। 

शुभेंदु बंगाल का गौरव 

सियासी गलियारों में चल रही इस खबर पर सांसद खान ने कहा, “शुभेंदु अधिकारी पश्चिम बंगाल आइकॉन है, वह जनता के नेता है ज्ञात को कि अधिकारी शनिवार 19 दिसंबर को गृहमंत्री अमित शाह की मौजूदगी में भाजपा में शामिल हुए हैं