Sambhaji Chhatrapati

    मुंबई. भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) (BJP) के सांसद संभाजीराजे छत्रपति (MP Sambhajiraje Chhatrapati) ने रविवार को घोषणा की कि मराठा समुदाय (Maratha Community) के लिए आरक्षण (Reservation) की मांग के साथ 16 जून को महाराष्ट्र के कोल्हापुर से राज्यव्यापी प्रदर्शन शुरू किया जाएगा। रायगढ़ किले में शिवाजी महाराज के 1674 में “छत्रपति” के तौर पर राज्याभिषेक की वर्षगांठ पर उन्हें श्रद्धांजलि देने के बाद संभाजीराजे ने कहा कि कोल्हापुर में छत्रपति साहू महाराज की समाधि से प्रदर्शन मोर्चा निकाला जाएगा। संभाजीराजे मराठा सम्राट के वंशज हैं।

    उन्होंने कहा, “आरक्षण की मांग के लिए मैं पूरे राज्य में जाऊंगा।” नौकरियों और नामांकन में मराठा समुदाय के लोगों को आरक्षण देने के फैसले को पिछले महीने उच्चतम न्यायालय द्वारा निरस्त करने के बाद महा विकास आघाड़ी (एमवीए) सरकार और भाजपा पर “राजनीतिक आरोप-प्रत्यारोप” में लिप्त होने की आलोचना करते हुए संभाजीराजे ने कहा कि समुदाय को राजनीति से कोई लेना-देना नहीं है।

    सांसद ने कहा, “हमें आगे के रास्ते के बारे में पता होना चाहिए और यह मालूम होना चाहिए कि शिक्षा एवं नौकरियों में समुदाय के लिए आरक्षण को कैसे बहाल करेंगे।” उन्होंने कहा कि राज्य सरकार को समुदाय को न्याय दिलाने के लिए अपनी क्षमता के हिसाब से सब कुछ करना चाहिए।

    इससे पहले दोपहर में, उपमुख्यमंत्री अजित पवार ने पुणे में कहा कि महाराष्ट्र सरकार अन्य समुदायों के मौजूदा आरक्षण से छेड़छाड़ किए बिना मराठाओं को आरक्षण देने का “हरसंभव प्रयास” कर रही है।

    उच्च न्यायालय के न्यायाधीश न्यायमूर्ति दिलीप भोसले (सेवानिवृत्त) की अध्यक्षता वाली एक समिति ने शुक्रवार को अपनी रिपोर्ट में अनुशंसा की कि महाराष्ट्र सरकार को मराठा आरक्षण रद्द करने के शीर्ष अदालत के फैसले के खिलाफ पुनर्विचार याचिका दाखिल करनी चाहिए। (एजेंसी)