File Photo
File Photo

नागपुर. सिटी सहित जिले में कोरोना नियंत्रित नहीं हो पा रहा है. हालांकि कोरोना पीड़ितों के स्वस्थ होने की संख्या भी तेजी से बढ़ रही है लेकिन 23.8 दिनों में पाजिटिव की संख्या भी डबल हो रही है. सोमवार को जिले में और 1350 पाजिटिव पाये गए जिसे मिलाकर पाजिटिव की कुल संख्या 65,107 पर पहुंच गई है. 65 हजार का आंकड़ा पार होने के बाद भी लोगों में सतर्कता नहीं देखी जा रही है.

सोमवार को जो 1350 पाजिटिव मिले हैं उनमें सिटी के 1023, ग्रामीण भागों के 322 और 5 जिले के बाहर के हैं. वास्तव में सोमवार को स्वैब जांच कम होने के कारण पाजिटिव की संख्या कम आना बताया जा रहा है. डाक्टर्स, प्रशासन लगातार अपील कर रहे हैं कि नागरिक खुद को और अपने परिवार को बचाने के लिए पूरी तरह की सतर्कता बरतें.

राज्य सरकार द्वारा मेरा परिवार-मेरी जिम्मेदारी अभियान भी चलाया जा रहा है. पूरे जिले में घर-घर जाकर सर्वे करने के लिए करीब 2000 टीमें गठित की गई हैं जो अन्य बीमारियों से ग्रस्त मरीजों की जानकारी भी लेगी ताकि उन्हें कोरोना होने पर तत्काल उपचार मुहैया करवाया जा सके.

48 की हुई मौत
सिटी में मौतों के आंकड़े भी लगातार बढ़ते ही जा रहे हैं. सोमवार को 48 मरीजों की मौत हो गई जिसमें 35 सिटी के और 8 ग्रामीण भागों के हैं. वहीं 5 जिले के बाहर के हैं. इन्हें मिलाकर अब कोरोना डेथ की संख्या 2094 हो गई है. इसमें से 1558 सिटी के, 347 ग्रामीण भागों के और 189 जिले के बाहर का समावेश है. जिले में फिलहाल डेथरेट 2.94 फीसदी चल रहा है जबकि ऐसा अनुमान था कि कोरोना की डेथरेट 2 फीसदी तक सीमित रहेगी. जिले में करीब 1 फीसदी अधिक पर चल रहा है और यही प्रशासन व डाक्टरों के लिए चिंता का विषय बना हुआ है.

82.25 फीसदी हुए ठीक
जिले में कोरोना मरीजों के स्वस्थ होने का आंकड़ा भी उत्साहवर्धक है. अब तो रिकवरी रेट 82.25 फीसदी पर पहुंच गया है. डाक्टरों की मेहनत रंग ला रही है. सोमवार को भी 1994 मरीज स्वस्थ होकर अपने घरों को लौटे. इन्हें मिलाकर स्वस्थ होने वालों की संख्या भी 53550 हो गई है. वहीं जिले में अब एक्टिव केस 9463 हैं जिसमें से 4279 होम क्वारंटाइन हैं.

65107 कुल संक्रमित

53550 अब तक स्वस्थ

1350 सोमवार को पाजिटिव

9463 एक्टिव केस