1/7
बुलेट ट्रेन परियोजना आधुनिक भारत के सबसे महत्वपूर्ण परियोजनाओं में से एक है. भारत में चलने वाली पहली बुलेट ट्रेन की पहली तस्वीर सामने आ गई है.
बुलेट ट्रेन परियोजना आधुनिक भारत के सबसे महत्वपूर्ण परियोजनाओं में से एक है. भारत में चलने वाली पहली बुलेट ट्रेन की पहली तस्वीर सामने आ गई है.
2/7
शुक्रवार को भारत स्थित जापान दूतावास ने मुंबई और अहमदाबाद तक चलने वाली देश की पहली बुलेट ट्रेन की तस्वीर जारी कर दी है. दूतावास ने जापान में चलने वाली E5 सीरीज शिनकनसेन की तस्वीरें जारी करते हुए कहा कि इस ट्रेन को भारत के अनुसार बदलाव कर चलाया जाएगा।
शुक्रवार को भारत स्थित जापान दूतावास ने मुंबई और अहमदाबाद तक चलने वाली देश की पहली बुलेट ट्रेन की तस्वीर जारी कर दी है. दूतावास ने जापान में चलने वाली E5 सीरीज शिनकनसेन की तस्वीरें जारी करते हुए कहा कि इस ट्रेन को भारत के अनुसार बदलाव कर चलाया जाएगा।
3/7
2014 के लोकसभा चुनाव को जीत के बाद अपने पहले बजट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस परियोजना की घोषणा की थी. 14 सितंबर, 2017 कोजापान के तत्कालीन प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने अपने भारत दौरे के दौरान इस परियोजना की शुरुआत की थी. यह प्रोजेक्ट प्रधानमंत्री मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट में से एक है.
2014 के लोकसभा चुनाव को जीत के बाद अपने पहले बजट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस परियोजना की घोषणा की थी. 14 सितंबर, 2017 कोजापान के तत्कालीन प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने अपने भारत दौरे के दौरान इस परियोजना की शुरुआत की थी. यह प्रोजेक्ट प्रधानमंत्री मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट में से एक है.
4/7

मुंबई से अहमदाबाद की दूरी 508 किलोमीटर है. वहीं इस परियोजना की कुल लगत एक लाख 10 हजार करोड़ रुपए है. इस दौरान कुल 12 स्टेशन बनेंगे। इस 508 किमी के हाई स्पीड रेल कॉरिडोर का 155 किमी रूट महाराष्ट्र में, 4.3 किमी रूट यूनियन टेरेटरी दादरा नगर हवेली में और 348 किमी हिस्सा गुजरात में है।
मुंबई से अहमदाबाद की दूरी 508 किलोमीटर है. वहीं इस परियोजना की कुल लगत एक लाख 10 हजार करोड़ रुपए है. इस दौरान कुल 12 स्टेशन बनेंगे। इस 508 किमी के हाई स्पीड रेल कॉरिडोर का 155 किमी रूट महाराष्ट्र में, 4.3 किमी रूट यूनियन टेरेटरी दादरा नगर हवेली में और 348 किमी हिस्सा गुजरात में है।
5/7
Representative Photo
Representative Photo
6/7
भारत सरकार इस परियोजना को जापान के साथ मिलकर बना रही है. इसके लिए सरकार ने 
नेशनल हाई स्पीड रेल कॉर्पोरेशन लिमिटेड की स्थापना की है. जापान कुल लगत का 81 प्रतिशत राशी भारत को 50 वर्ष के लिए 0.1 प्रतिशत ब्याज पर दी है.
भारत सरकार इस परियोजना को जापान के साथ मिलकर बना रही है. इसके लिए सरकार ने  नेशनल हाई स्पीड रेल कॉर्पोरेशन लिमिटेड की स्थापना की है. जापान कुल लगत का 81 प्रतिशत राशी भारत को 50 वर्ष के लिए 0.1 प्रतिशत ब्याज पर दी है.
7/7
मुंबई-अहमदाबाद के 508 किमी लंबे मार्ग पर दौड़ने वाली बुलेट ट्रेन के किराए की बात अभी स्पष्ट नहीं हुई। लेकिन एनएचएसआरसीएल के एक अधिकारी ने कहा था कि, इसमें सफर करने के लिए करीब 2500 से लेकर 3000 रुपये चुकाने पड़ सकते हैं. 
मुंबई-अहमदाबाद के 508 किमी लंबे मार्ग पर दौड़ने वाली बुलेट ट्रेन के किराए की बात अभी स्पष्ट नहीं हुई। लेकिन एनएचएसआरसीएल के एक अधिकारी ने कहा था कि, इसमें सफर करने के लिए करीब 2500 से लेकर 3000 रुपये चुकाने पड़ सकते हैं.