rasne

  • खरीदारी को स्थायी समिति की मंजूरी
  • समिति अध्यक्ष हेमंत रासने की जानकारी

पुणे. कोरोना संकट के समय में शहर  को पहली कार्डियक एम्बुलेंस (Cardiac ambulance) खरीदने की मंजूरी मिल गई है। यह निर्णय स्थायी समिति की बैठक में लिया गया। यह जानकारी स्थायी समिति के अध्यक्ष हेमंत रासने  (Hemant Rasne Standing Committee Chairman) ने दी।

आगामी समय में हर जोन को दी जाएगी

संवाददाता सम्मेलन में रासने ने आगे कहा कि निर्णय एक प्रयोगात्मक आधार पर लिया गया। और इस तरह की मांग पर विचार करते हुए प्रत्येक जोन को  एम्बुलेंस प्रदान की जाएगी। इसी प्रकार, महापालिका के डॉ.  दिलीप वलसे पाटिल अस्पताल को आंखों से संबंधित उपकरणों की खरीद के लिए मंजूरी दे दी गई है।  पुणे में नागरिक एमीनिटी सेंटर (Citizen Amity Center) के लिए 100 कर्मचारियों की भर्ती को मंजूरी देने का निर्णय लिया गया है।  

टैक्स जमा करने वाली नंबर एक मनपा

रासने ने कहा कि टैक्स देने के मामले में पुणे महापालिका (Pune municipality) महाराष्ट्र में नंबर एक बन गया है। कोरोना अवधि के दौरान, पुणे महापालिका द्वारा कुल 1200 करोड़ कर एकत्र किए गए हैं। मुंबई नगर निगम राज्य  का सबसे बड़ा निगम है और इसने राजस्व में केवल 500 करोड़ रुपये एकत्र किए हैं। इसलिए मैं पुणे के नागरिकों का शुक्रगुजार हूं। ऐसा भी रासने ने इस अवसर पर कहा।

मैं पुणेकरों का शुक्रगुजार हूं जिसने कारोना संकट में भी 1200 करोड़ का टैक्स जमा कर राज्य का नंबर एक मनपा बन गया।

-हेमंत रासने, स्थायी समिति अध्यक्ष, मनपा