neocov-new-coronavirus-a-new-corona-virus-found-in-south-africa-spreading-rapidly-1-in-3-die

    मुंबई: कोरोना की तीसरी लहर पर काबू पाने के बाद राज्य में कारोना (Corona) नियंत्रण में है, लेकिन फरवरी महीने से कोरोना संक्रमण (Corona Infection) में लगातार वृद्धि को देखते हुए राज्य टास्क फोर्स (State Task Force) के सदस्य ने नागरिकों से आवाहन किया कि वे स्वयं कोरोना नियमों (Corona Rules) का पालन करें। वहीं, मुंबई में कोरोना के 139 नए मरीज (New Patients) मिले हैं और आठ मरीजों को अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा है।

    महाराष्ट्र कोविड टास्क फोर्स के सदस्य डॉ. राहुल पंडित (Dr. Rahul Pandit) ने कहा कि जनवरी से फरवरी तक कोरोना मामलों की वृद्धि दर में इजाफा हो रहा है। राज्य में कोरोना नियमों को लागू करने का फैसला सरकार को लेना है, लेकिन कोरोना मामलों पर सख्त फैसला लेने के बाद नियमों का पालन करने से अच्छा है कि लोग स्वयं से कोरोना नियमों का पालन करें। नागरिक मास्क लगाएंगे तो कोरोना से बचाव में अहम हो सकता है।

    धीरे-धीरे बढ़ रही है मरीजों की संख्या

    डॉ. पंडित ने कहा कि सभी नागरिकों को इसे स्वास्थ्य आदत बनाने की जरुरत है। भले ही राज्य में कोरोना मरीजों की संख्या धीरे-धीरे बढ़ रही है, कोरोना नियमों का पालन करने से चौथी लहर आने से रोका जा सकता है। इस बारे में स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा कि मरीजों की संख्या में मामूली वृद्धि हो रही है, लेकिन चौथी लहर आने के कोई संकेत नहीं है। इसलिए किसी को पैनिक होने की जरुरत नहीं है।

    सक्रिय मरीजों की संख्या बढ़ कर 860 हुई

    गुरुवार को मुंबई में कोरोना के 139 नए मरीज मिले । जिसमें से 131 मरीजों में कोरोना के कोई लक्षण नहीं मिले। 8 मरीजों को अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा है। बीते 24 घंटे में 130 मरीज कोरोना से ठीक हुए हैं। मुंबई में अब सक्रिय मरीजों की संख्या बढ़ कर 860 हो गई है।