25 March : आज ही के दिन हुआ था भारतीय भाषा में पहले विज्ञापन का प्रकाशन

    Loading

    नई दिल्ली: आजकल अखबारों में हर तरफ विज्ञापनों की भरमार रहती है और यह विज्ञापन अखबार मालिकों के लिए राजस्व का एक बड़ा जरिया होते हैं। अब सवाल यह पैदा होता है कि पहला विज्ञापन कब और कहां प्रकाशित हुआ होगा। भारत में वह 25 मार्च 1788 का दिन था जब कलकत्ता गजट में भारतीय भाषा में पहला विज्ञापन प्रकाशित हुआ। यह बांग्ला भाषा में प्रकाशित हुआ था। 

    अन्तरराष्ट्रीय स्तर पर इस दिन की बड़ी घटना का जिक्र करें तो हरित क्रांति के जनक कहे जाने वाले वैज्ञानिक नार्मन बोरलॉग का जन्म 1914 को 25 मार्च को ही हुआ था और उनकी इस उपलब्धि का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि उन्हें शांति के नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। देश और दुनिया के इतिहास में 25 मार्च की तारीख पर दर्ज अन्य महत्वपूर्ण घटनाओं का ब्यौरा इस प्रकार है:-

    1655 : शनि के सबसे बड़े उपग्रह टाइटन की खोज हुई।

    1788 : किसी भारतीय भाषा :बांग्ला: में पहला विज्ञापन कलकत्ता गजट में प्रकाशित हुआ।

    1807 : ब्रिटिश साम्राज्य से दास प्रथा का अंत।

    1821 : ग्रीक स्वतंत्रता संग्राम की शुरूआत। 

    1896: यूनान की राजधानी एथेंस में आधुनिक ओलंपिक खेलों की शुरूआत  

    1898 : सिस्टर निवेदिता को स्वामी विवेकानंद ने ब्रह्मचर्य की दीक्षा दी।

    1914 : अमेरिकी कृषि वैज्ञानिक और मानवतावदी एवं नोबेल पुरस्कार से सम्मानित नॉर्मन बोरलॉग का जन्म

    1920 : स्वाधीनता सेनानी और गांधीवादी नेता ऊषा मेहता का जन्म। 

    1931 : महान पत्रकार और राजनेता गणेश शंकर विद्यार्थी का निधन। 

    1965 : नागरिक अधिकारों के लिए संघर्षरत मार्टिन लूथर किंग जूनियर का चार दिवसीय मार्च संपन्न।  1983 : दुनिया के सबसे आधुनिक समुद्र विज्ञान शोध पोत सागर कन्या का जलावतरण।  

    1986 : देश की पहली विशेष दुग्ध ट्रेन आनंद से चलकर कलकत्ता पहुंची।

    1989 : भारत का पहला सुपर कंप्यूटर राष्ट्र को समर्पित किया गया। एक्स-एमपी-14 को अमेरिका द्वारा तैयार किया गया था।

    1995: विख्यात मुक्केबाज माइक टायसन तीन साल की कैद के बाद जेल से रिहा।

    2002 : उत्तरी अफगानिस्तान के हिंदू कुश क्षेत्र में 6.1 की तीव्रता के भूकंप ने भारी तबाही मचाई। 1000 से ज्यादा लोगों की मौत।

    2020 : देश में कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या 600 के पार, तमिलनाडु में पहली मौत। दुनियाभर में मरने वालों का आंकड़ा 19,246 पर पहुंचा।

    2020 : अफगानिस्तान में बंदूकधारियों ने गुरुद्वारे पर किया हमला, 25 श्रद्धालुओं की मौत।