jama-masjid
Pic : ANI

    नई दिल्ली/भोपाल. मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) से आ रही एक बड़ी खबर के अनुसार, वाराणसी में ज्ञानवापी मस्जिद के सर्वे के बाद अब भोपाल (Bhopal) के चौक बाजार स्थित जामा मस्जिद (Jama Masjid) में भी एक सर्वे की मांग की गई है। दरअसल भोपाल की इस मस्जिद में भी शिव मंदिर के होने का दावा पेश किया गया है। 

    उक्त मामले में संस्कृति बचाओ मंच के अध्यक्ष चंद्रशेखर तिवारी ने आज भोपाल के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा को ज्ञापन सौंपा है। दरअसल चंद्रशेखर तिवारी का मानना है कि भोपाल की आठवीं शासक कुदेशिया बेगम ने अपनी आत्मकथा हयात ए कूदीस में इस महत्वपूर्ण बात का उल्लेख किया है कि भोपाल की जामा मस्जिद में शिव मंदिर तोड़कर उक्त मस्जिद का निर्माण कराया गया था।

    आपको बता दें कि इस मस्जिद का निर्माण 1832 ईसवी में प्रारंभ होकर 1857 ईसवी में पूर्ण हुआ। यहां पर एक विशाल शिव मंदिर था। वहीं मामले पर तिवारी ने कहा कि वह इस बात के घनत्व को देखते हुए और मामले कि संगीनता को जान अब वे कोर्ट में भी इस बाबत याचिका दायर करेंगे।