18,000 children infected in Nashik, first infected on 28 March 2020
प्रतीकात्मक तस्वीर

    • महानगर में बाल अधिकार सप्ताह उत्साह से प्रारंभ 

    अकोला. महानगर एवं जिले में 14 नवम्बर से 20 नवम्बर तक आयोजित बाल हक सप्ताह का महानगर में बालक दिन के पर्व पर उत्साह पूर्वक प्रारंभ हुआ. स्थानीय उत्कर्ष शिशुगृह एवं गायत्री बालिकाश्रम में संपन्न इस कार्यक्रम का उदघाटन जिलाधिकारी नीमा अरोरा के हाथों संपन्न हुआ. 

    इस अवसर पर जिले में बालकों के विकास हेतु सामाजिक संस्थाओं ने आगे आने का आहवान जिलाधिकारी अरोरा ने किया. सर्व प्रथम जिलाधिकारी का स्वागत उत्कर्ष शिशुगृह के नन्हें बालकों ने फूल देकर किया और गायत्री बालिकाश्रम की बालिका ने भी संस्था की लड़कियों द्वारा बनाया गया फूल बुके उन्हें प्रदान किया.

    चाइल्ड लाइन के बच्चों का दोस्ती का रथ जो शहर में सप्ताह भर चलेगा उसे हरी झंडी दिखाकर उद्घाटित किया गया. जिलाधिकारी अरोरा ने चाइल्ड लाइन संस्था द्वारा बालकों के प्रति जागृति, बालविवाह रोकने संबंधित पोस्टर का उद्घाटन भी किया. जो विविध संस्था, मंगल कार्यालय एवं पुलिस थानों में लगाए जाएंगे. 

    इस समय हस्ताक्षर अभियान के बैनर का जिलाधिकारी अरोरा ने स्वयं बाल संदेश लिखकर उद्घाटन किया. कार्यक्रम में रोटरी क्लब ऑफ अकोला ईस्ट द्वारा आयोजित सभी बालगृह के  120 बच्चों का स्वास्थ्य शिविर का भी उद्घाटन किया. इस शिविर में बाल रोग विशेषज्ञ डा. संदीप मानकर, महिला रोग विशेषज्ञ डा. शीतल मानकर, डा. नमिता काले, डा. पद्मा मोटवानी, बालरोग विशेषज्ञ डा. विशाल काले, दन्त चिकित्सक डा. अनूप जोशी, डा. सर्वेश खोरिया, डा. नीलेश जोशी, डा. रघुनाथ खडसे, नेत्र विशेषज्ञ डा. रोमिल खडसे आदि ने सेवा दी. संचालन शारदा बियाणी ने किया.

    इस कार्यक्रम में जिला विधि सेवा प्राधिकरण, उत्कर्ष शिशुगृह, गायत्री बालिकाश्रम, तीक्ष्णगत मल्टीपर्पस वेलफेयर सोसा, चाइल्ड लाइन, रेलवे चाइल्ड लाइन, रोटरी क्लब ऑफ अकोला ईस्ट, इनरवील क्लब ऑफ अकोला, शासकीय बालगृह, संकल्प साधना संस्था, सृजन फाउंडेशन के सभी पदाधिकारी, संचालकगण एवं नागरिक उपस्थित थे.