death
File Pic

    अमरावती. जिला सरकारी अस्पताल में मई महीने में विभिन्न बीमारियों के इलाज के लिए दाखिल मरीजों में से 175 की मौत हो गई. मई माह के 31 दिनों में 14 हजार 65 मरीज इलाज कराने इर्विन में भर्ती हुए. इनमें से 2 हजार 551 मरीजों पर उपचार किए गए है. 

    996 डाग बाईट केस

    मई महीने में 996 लोगों को कुत्तों ने काटा. बारिश में यह संख्या और बढ़ेंगी. जिले में आवारा कुत्तों की बढ़ती संख्या पर नकेल कसने में महकमा कम पड़ा है. जिससे डाग बाईट की केसेस में वृद्धि हो रही है. 

    जहर पीने वाले 41 में से 4 की मौत

    जिले में विभिन्न स्थानों पर 41 लोगों ने जहर पीकर आत्महत्या करने की कोशिश की. इनमें से 4 लोगों ने इलाज दौरान दम तोड़ा. इसी काल में 17 लोगों को सर्पदंश के बाद इर्विन लाया गया था. बिच्छू के कांटने से घायल 1 मरीज भी इस दौरान इलाज के लिए दाखिल किया गया था. 

    78 लाशों का पीएम

    जिले में विभिन्न घटनाओं में जान गंवाने के चलते 78 शवों पर मई महीने में पोस्टमार्टम किया गया है. 

    टायफाईड के 107 मरीज

    1 से 31 मई की कालावघि में जिला सरकारी अस्पताल में टायफाईड ग्रस्त 107 मरीज दाखिल हुए थे. निमोनिया के 77 व डायरिया के 96 मरीजों पर इस दौरान इलाज किया गया.