tmc schools
file

    अमरावती. विदर्भ का शैक्षणिक सत्र 27 जून से शुरू होगा. दो वर्ष से कोरोना के प्रकोप के चलते शालाओं में अनियमितता थी. वर्ष 2022-23 का शैक्षणिक सत्र की शुरुआत में भी कोरोना का भय शिक्षा विभाग में कायम दिख रहा है, यही वजह है कि राज्य के शालेय शिक्षा व क्रीड़ा विभाग ने शुक्रवार 10 जून को भेजे शासन आदेश में शैक्षणिक सत्र शुरू होने से पहले सभी शिक्षक व शिक्षकेत्तर कर्मचारियों ने कोरोना के दोनो टीके और उसके बाद आवश्यक बूस्टर डोज लेना अनिवार्य है.

    राज्य सरकार के आदेश के तहत राज्य में शैक्षणिक सत्र सोमवार 13 जून से शुरू होगा, लेकिन जून महीने में विदर्भ के तापमान को देखते हुए यहां का शैक्षणिक सत्र 27 जून 2022 से शुरू होगा. 27 व 28 जून को शाला के सभी शिक्षक व शिक्षकेत्तर कर्मचारियों को उपस्थित रहकर शाला के स्वच्छता करना, सौंदर्यीकरण करना, शिक्षक व शिक्षकेत्तर कर्मचारियों को कोरोना प्रकोप तथा स्वास्थ्य को लेकर उद्घोषण का आयोजन करना है. 29 जून से विद्यार्थियों को प्रत्यक्ष में स्कूल में आने की सूचना देनी होगी.

    2 दिन स्वच्छता, 29 से शुरू होंगी कक्षाएं

    27 जून से शैक्षणिक सत्र शुरू हो रहा है, लेकिन पहले 2 दिन सभी शिक्षक व शिक्षकेत्तर कर्मचारियों को शाला की स्वच्छता व सौंदर्यीकरण करना होगा, 29 जून को विद्यार्थियों को प्रत्यक्ष में शाला में आने की सूचना देनी होगी.

    शाला प्रशासन के लिए नियमावली

    शालेय शिक्षक व अन्य कर्मचारियों को कोरोना प्रतिबंधात्मक दोनों टीके व बूस्टर  डोज लेना जरूरी किया है. 12 वर्ष व उससे ज्यादा आयु गुट के विद्यार्थियों में कोरोना टीकाकरण बढ़ाने पर जोर देने के आदेश दिए हैं. जिन विद्यार्थियों को बुखार या कोरोना के लक्षण दिखने पर शाला प्रशासन द्वारा विद्यार्थियों के पालकों को सूचना देनी होगी कि बच्चों को स्कूल न भेजें. विद्यार्थियों में कोरोना के लक्षण मिलने पर उन्हें शालेय स्तर पर तत्काल क्वारेंटाइन करने की व्यवस्था शाला प्रशासन को करनी होगी.