Son first killed his parents in Thane, Maharashtra, then told a false story, police arrested him
Representative Photo

    अमरावती. इर्विन रोड पर ज्ञानमाता स्कूल के पास अतिक्रमित जगह पर दूकान लगाने को लेकर अनिल शंकर भोसले (32,दशहरा मैदान) के हत्या मामले में आरोपी चेतन उर्फ चेतर गबर शिंदे को कोतवाली पुलिस ने हिरासत में लिया है. कोर्ट में पेश कर 22 दिसंबर तक पुलिस कस्टडी में लिया है.

    पारिवारिक कारणों से विवाद

    अनिल भोसले व चेतर शिंदे दोनों ही दशहरा मैदान परिसर निवासी हैं. रिश्ते में दोनों साढ़ु हैं. रविवार को अनिल भोसले व आरोपी चेतन शिंदे ने ज्ञानमाता हाइस्कूल के सामने मोड़ रास्ते पर अतिक्रमण कर क्रिसमस गिफ्ट की दो दूकानें लगाई. इन दूकानों पर दोनों ही परिवार का उदर निर्वाह चलता है, विगत दो दिनों से दोनों परिवारों में जगह को लेकर विवाद हो रहा था.  इस बीच अनिल भोसले गुजरात के बड़ौदा शहर गया था.

    जहां से शनिवार को लौटकर आने पर दोनों के बीच पारिवारिक कारणों व पत्नी के चरित्र पर संदेह जताने को लेकर चेतर शिंदे ने अनिल से विवाद किया. जिसके बाद रात के समय दोनों ने मिलकर शराब पी. बात ही बात में दोनों के बीच फिर से दूकान की जगह को लेकर विवाद हुआ. बात इतनी बढ़ी कि आरोपी चेतर ने चाकू निकालकर अनिल पर सपासप वार कर दिए. इतना ही नहीं तो पत्थर से वार कर उसे मौत के घाट उतार दिया.

    रेलवे स्टेशन से पकड़ा आरोपी

    सूचना पर कोतवाली पुलिस घटनास्थल पर पहुंची. सीपी आरती सिंह पुलिस बल के साथ वहां पहुंची. फरार आरोपी की तलाश में अलग-अलग टीम को रवाना किया. इस बीच मृतक की बहन रमजन शिंदे की शिकायत पर कोतवाली पुलिस ने मामला दर्ज किया है. इस बीच सिटी कोतवाली पुलिस ने रेलवे स्टेशन से गुजरात की ओर भागने का प्रयास कर रहे आरोपी चेतर शिंदे को रेलवे स्टेशन से देर रात हिरासत में लिया. जिसे रविवार की दोपहर कोर्ट में पेश कर पुलिस कस्टडी मांगी. कोर्ट ने 22 दिसंबर तक पीसीआर दिया है.