Ajit Pawar , NCP, Lok Sabha Election
अजित पवार

Loading

छत्रपति संभाजीनगर: महाराष्ट्र (Maharashtra) में अब भी मराठा आरक्षण (Maratha Reservation) का मुद्दा खत्म नहीं हुआ है। ऐसे में यहां मराठा आरक्षण की मांग को लेकर राजनीतिक नेताओं को जगह-जगह विरोध का सामना करना पड़ता नजर आ रहा है। आपको बता दें कि महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री अजित पवार (DCM Ajit Pawar) आज छत्रपति संभाजीनगर (Chhatrapati Sambhajinagar) जिले के दौरे पर हैं। आइए जानते है इस संबंध में पूरी खबर विस्तार से… 

न आये अजित पवार 

अजित पवार को भी मराठा समुदाय के विरोध का सामना करना पड़ रहा है। मिली जानकारी के मुताबिक, उपमुख्यमंत्री अजीत पवार सुबह संभाजीनगर जिले के गंगापुर में 43वें मराठवाड़ा साहित्य सम्मेलन का उद्घाटन करेंगे। सम्मेलन अध्यक्ष प्रसिद्ध साहित्यकार प्रो. डॉ. जगदीश कदम उपस्थित रहेंगे। हालांकि, पूरे मराठा समुदाय ने अजित पवार से इस बैठक में न आने की अपील की है, ऐसे में अब यहां क्या होता है यह देखने लायक होगा। 

ऐसा होगा अजित का कार्यक्रम 

इसलिए इस सम्मेलन की शुरुआत में मराठा आरक्षण के मुद्दे पर असमंजस के संकेत मिल रहे हैं। अजित पवार सुबह 10 बजे हेलीकॉप्टर से पहुंचेंगे। इसके बाद वह दो स्थानों पर निजी कार्यक्रमों में भाग लेंगे। दोपहर करीब 3 बजे संभाजीनगर जिले की समीक्षा बैठक होगी। 

मराठा क्रांति मोर्चा ने कहा… 

इस पर अपनी बात रखते हुए मराठा क्रांति मोर्चा ने कहा कि ”हम साहित्य सम्मेलन के खिलाफ नहीं हैं लेकिन ऐसा देखा जा रहा है कि कुछ राजनीतिक समूह सम्मेलन की आड़ में अपना प्रचार कर रहे हैं। जबकि मराठा आरक्षण का मुद्दा पिछले तीन महीनों से लंबित है, सरकार अभी भी मराठा समुदाय को ओबीसी से कुनबी प्रमाण पत्र देने के लिए तैयार नहीं है।”

इसलिए मराठा क्रांति मोर्चा ने कहा है कि हमारा रुख है कि संवैधानिक पदों पर बैठे राजनीतिक नेताओं को मनोज जरांगे पाटिल के आदेश पर जनता के बीच नहीं आना चाहिए। ऐसे में अब यह देखना होगा कि यहां अजित पवार को दौरा कैसे होता है।