शराबी ने की सेल्फी प्वाइंट पर लगे आर्ट इंस्टॉलेशन में तोड़फोड़, अभियुक्त गिरफ्तार

औरंगाबाद. ऐतिहासिक औरंगाबाद के ब्रांडिंग के लिए मनपा प्रशासन ने स्मार्ट सिटी प्रकल्प के माध्यम से  शहर के प्रमुख चौराहों में सेल्फी प्वाइंट  बनाए है. शहर के छावनी परिषद क्षेत्र के नेहरु चौक में  बनाए गए सेल्फी प्वाइंट पर लगे ‘लव औरंगाबाद’ नामक आर्ट इंस्टॉलेशन की एक शराबी ने मंगलवार सुबह तोड़फोड़ करने का मामला प्रकाश में आया.

 इस मामले को छावनी परिषद के सीईओ विक्रांत मोरे ने गंभीरता से लेकर तत्काल आरोपी के खिलाफ कार्रवाई कर  मामला दर्ज करवाया. छावनी पुलिस ने भी तत्काल हरकत में आकर मामला दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार किया. तोड़फोड़ करनेवाले आरोपी की  पहचान विष्णु काले निवासी तोफखाना छावनी के रुप में की गई.

छावनी थाना में मामला दर्ज 

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार छावनी थाना क्षेत्र के नेहरु चौक में हाल ही में सेल्फी प्वाइंट  बनाकर वहां ‘लव औरंगाबाद’ नामक आर्ट इंस्टॉलेशन किया गया. मंगलवार सुबह करीब 3 बजे नेहरु चौक में स्थित गार्डन में तोफखाना निवासी विष्णु काले शराब की नशे में वहां पहुंचा. उसने चौक में स्थित गार्डन में जाकर वहां डयूटी कर रहे छावनी के गार्ड के साथ विवाद किया. गार्ड ने उसे गार्डन से बाहर निकलने पर गुस्साएं आरोपी काले ने  निकट ही बनाए सेल्फी प्वाइंट पर लगे ‘लव औरंगाबाद’  आर्ट इंस्टॉलेशन की तोड़फोड़ शुरु की. इससे गार्ड घबराया. घटना की जानकारी गार्ड ने तत्काल छावनी परिषद के सीईओ विक्रांत मोरे को दी. सीईओ मोरे भी तत्काल घटनास्थल पहुंचे और उन्होंने गार्ड को घटना को लेकर छावनी थाना में  शिकायत दर्ज करने के आदेश दिए. इस घटना को लेकर छावनी थाना में मामला दर्ज किया गया.

नशे में की हरकत

 पुलिस ने मामले को गंभीरता देखकर तत्काल आरोपी विष्णु काले को गिरफ्तार किया. पुलिस सूत्रों ने बताया कि आरोपी विष्णु काले बेरोजगार है. वह हर दिन शराब पीकर छावनी के गलियों में घूमता है. उसने नशे में यह हरकत की. इधर, बीते तीन दिन से शहर में औरंगाबाद बनाम संभाजीनगर नाम पर बनाए गए सेल्फी प्वाइंट पर  गरमायी राजनीति के बीच यह घटना होने से पुलिस प्रशासन सक्ते में था. घटना के बाद शहर के जिन इलाकों में ‘लव औरंगाबाद’ और ‘सुपर संभाजीनगर’ के सेल्फी प्वाइंट बनाए गए वहां पुलिस बंदोबस्त तैनात किया गया. देर शाम बाद पुलिस बंदोबस्त हटाया गया. घटना तत्काल शांत होने पर पुलिस ने राहत की सांस ली.