संजय राउत की गिरफ्तारी पर शिवसेना का केंद्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शन

    औरंगाबाद : केंद्रीय प्रवर्तन निदेशालय (Central Enforcement Directorate) द्वारा शिवसेना (Shiv Sena) के वरिष्ठ नेता और सांसद संजय राउत (MP Sanjay Raut) के घर छापा मारकर उनकी की गई गिरफ्तारी (Arrest) के खिलाफ शिवसेना के जिला ईकाई की ओर से क्रांति चौक में केंद्र सरकार के खिलाफ जोरदार प्रदर्शन किया गया। प्रदर्शन का नेतृत्व शिवसेना जिला प्रमुख अंबादास दानवे, पार्टी के वरिष्ठ नेता चन्द्रकांत खैरे ने किया। ईडी द्वारा संजय राउत की गिरफ्तारी से गुस्साएं शिवसैनिकों ने क्रांति चौक में जोरदार प्रदर्शन करते हुए केंद्र की बीजेपी सरकार, पीएम मोदी, अमित शहा और ईडी के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। शिवसैनिकों ने जोश पूर्ण माहौल में आंदोलन कर पार्टी में फूट के बाद अपना उत्साह बरकरार होने का दम भरा।

    मोदी सरकार सत्ता का दुरुपयोग कर रही है 

    आंदोलन में शामिल महिला शिवसैनिकों ने भी जमकर नारेबाजी की। प्रदर्शनकारियों ने उद्धव ठाकरे आप आगे बढ़ों हम तुम्हारे साथ है। संजय राउत आप संघर्ष करों, हम तुम्हारे साथ है। ईडी का गलत इस्तेमाल करने वाले मोदी सरकार को धिक्कार हो। बीजेपी शिवसेना से डरती है, इसलिए ईडी को आगे करती है। शिवसेना अंगार है, बाकी सब भंगार है के शिवसैनिकों ने जमकर नारे लगाए। जिला प्रमुख दानवे ने अपने विचार व्यक्त करते हुए केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि मोदी सरकार सत्ता का दुरुपयोग कर ईडी के माध्यम से अन्य दलों के नेताओं में दहशत फैला रही है। शिवसेना इसके खिलाफ आवाज उठाते रहेगी। 

    आंदोलन में पूर्व मेयर नंदकुमार घोडेले, पूर्व विधायक पूर्व मेयर त्रिबंक तुपे, उपजिला प्रमुख अनिल पोलकर, बप्पा दलवी, बंडु ओक, आनंद तांदुलवाडीकर कृष्णा पाटिल डोणगांवकर, विनायक पांडे, राजेन्द्र राठोड, संतोष जेजुरकर, शहर प्रमुख बालासाहाब थोरात, विजय वाघचौरे, विश्वनाथ स्वामी, ज्ञानेश्वर डांगे, विधानसभा संगठक राजू वैद्य, गोपाल कुलकर्णी, सुशील खेडकर, तहसील प्रमुख बालासाहाब गायकवाड, महिला आघाड़ी की संपर्क संगठिका सुनीता आउलवार, सुनिता देव, जिला संगठिका प्रतिभा जगताप, पूर्व मेयर कला ओझा, उप जिला संगठिका अनिता मंत्री, अंजली मांडवकर, मीना फसाटे, नलिनी बाहेती, जयश्री लुंगारे, दुर्गा भाटी, युवा सेना उपसचिव ऋषिकेश खैरे, हनुमान शिंदे, प्राजक्ता राजपूत, आशा दातार, विद्या अग्निहोत्री, भागुअक्का सिरसाठ, लक्ष्मी नरहिरे, मीरा देशपांडे, नलिनी महाजन उपस्थित थी।