Anukampa

    भंडारा. पिछले कुछ वर्षों में अनुकंपा धारकों की धीमी भर्ती प्रक्रिया के कारण जिले के वन विभाग के अंतर्गत आने वाले कई अनुकंपा लाभार्थियों को अब भी नियुक्ति का इंतजार है. वन विभाग सहित जिला प्रशासन को ज्ञापन देने के बावजूद अनुकंपा लाभार्थियों में न्याय नहीं मिलने से आक्रोश है.

    जिले के वनविभाग के तहत आनेवाले अनुकंपाधारक उम्मीदवारों ने नागपुर के स्वीय सहायक अप्पर प्रधान मुख्य वनसंरक्षक विकास गुप्ता की तत्काल भर्ती करे, इसके लिए ज्ञापन देते समय अनुकंपाधारक उम्मीदवार राकेश वाघाडे, प्रेमकुमार वरकडे, दीपक उईके, श्रीकांत मस्के, बंडू चवरे, सचिन सतपैसे, शिवम मेश्राम, विलास रहांगडाले, पंकज दिघोरे, जगेस्वर गाजबे सहित अन्य उम्मीदवार उपस्थित थे. 

    अप्पर प्रधान मुख्य वनाधिकारी गुप्ता के समक्ष अपनी समस्या रखी. अनुकंपा धारकों की भर्ती प्रक्रिया ठप होने से आज कई उम्मीदवार रोजगार के लिए संघर्ष कर रहे हैं. वहीं दूसरी ओर रोजगार के अवसर न मिलने के कारण परिवार पर भूकमरी की नौबत है. भंडारा जिले में 77 अनुकंपा उम्मीदवारों को अभी भी नियुक्ति का इंतजार है.

    इनमें से कई उम्मीदवारों की आयु सीमा 35 से 40 के आसपास पहुंच चुकी है. इस कारण वन विभाग द्वारा अनुकम्पा धारकों की समय पर नियुक्ति की मांग के बावजूद न्याय के अभाव में आयु सीमा पार करने पर अनुकंपा लाभार्थियों की नियुक्ति की जायेगी क्या ऐसा प्रश्न अनुकम्पा लाभार्थियों द्वारा पूछा गया है. 

    इस संदर्भ में सांसद सुनील मेंढे, विधायक नरेंद्र भोंडेकर तथा जिलाधिकारी संदीप कदम की ओर अनुकंपा धारकों ने अपनी समस्या रखते हुए न्याय की अपेक्षा व्यक्त की है. भंडारा, गोंदिया जिले में कुछ दिनों पूर्व ही जिप प्रशासन ने 40 अनुकंपा धारकों की नियुक्ति की है. साथही वनविभाग ने भी अनुकंपाधारक उम्मीदवारों की भर्ती प्रक्रिया तत्काल चलाए ऐसी अपील इन उम्मीदवारों ने की है. महिनेभर में वनविभाग ने भर्ती प्रक्रिया नहीं चलाकर आंदोलन की चेतावनी इस अनुकंपाधारक उम्मीदवारों ने दी है.