Omicron is spreading its feet: 20 infected again found in Maharashtra on the second day, the number reached 108
File Photo

    • अगले 10 दिन जिले के लिए महत्वपूर्ण : ज्यादा सावधान रहने की जरूरत
    • लक्षण दिखाई देते ही चिकित्सक की सलाह लें : जिलाधिकारी संदीप कदम 

    भंडारा. जिस तरह से भंडारा जिले में कोरोना मरीजों के आंकड़े बढ़ते जा रहे है. इसे हल्के में नहीं लेना चाहिए. कोरोना संक्रमण के ग्राफ बढ़ता ही जा रहा है. अगले दस दिन भंडारा जिले के लिए महत्वपूर्ण साबित होंगे. मरीजों की संख्या बढ सकती है. इसलिए कोरोना प्रोटोकाल का पालन करने एवं सावधान रहने की बात जिलाधिकारी संदीप कदम ने कही.

    बढ़ रहा है ग्राफ

    जिले में कोरोना संक्रमण का ग्राफ बढ़ता ही जा रहा है. 17 जनवरी को 49 मरीज पाए गए थे. इसके बाद 18 जनवरी को 225, 19 जनवरी को 248, 20 जनवरी को 329 एवं शुक्रवार को 409 मामले सामने आए. नागपुर संभाग के अन्य जिलों की तुलना में जिले की सकारात्मकता दर सबसे कम (12.4) है. लेकिन कोरोना ग्राफ पर नजर डाले तो अगले दस दिन भंडारा जिले के लिए महत्वपूर्ण होंगे. इन दस दिनों में पीड़ितों की संख्या तेजी से बढ़ने की उम्मीद है. इसलिए नागरिकों को अधिक सावधान रहने की जरूरत होने की बात जिलाधिकारी संदीप कदम ने कही.

    हल्के लक्षणों को हल्के में न लें : जिलाधिकारी

    जिलाधिकारी संदीप कदम ने कहा कि कई हल्के लक्षण होने पर समय की कमी या लापरवाही के कारण लक्षणों को कम करके नहीं आंका जाना चाहिए. उनका समय पर इलाज करना चाहिए. 

    कोरोना नियंत्रण में लगेगा मैनपावर 

    जिलाधिकारी ने बताया कि जिले में हाल ही में स्थानीय निकाय चुनाव हुए. जिला प्रशासन की अधिकांश मैनपावर चुनाव प्रक्रिया में लगा हुआ था. उन्होंने यह भी कहा कि अब चुनाव खत्म हो गया है, जिले में उपलब्ध सभी मैनपावर का उपयोग कोरोना नियंत्रण के लिए किया जाएगा. लेकिन नागरिकों से अक्सर मास्क पहनने, सैनिटाइजर का इस्तेमाल एवं सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने का आग्रह जिलाधिकारी ने किया है.