बेरोजगारी से पीड़ित लोगों को न्याय दिलाने सरकार के माध्यम से शुरु करें यूनिफेरो कारखाना

    • क्षेत्र के लोगों ने पटेल से की पहल करने की मांग

    तुमसर. बीते 2 वर्ष में शेकडो युवा एवं मजदूर वर्ग अपने गृहग्राम लौट आए है एवं वे बेरोजगारी का जीवनयापन कर रहे हैं ऐसे समय मे क्षेत्र के बंद पड़े यूनिफेरो कारखाने को शुरु करवाने की दिशा में नवनिर्वाचित सांसद प्रफुल पटेल सार्थक पहल करेंगे ऐसी क्षेत्र के लोगो द्वारा आशाए व्यक्त की गई है

    लगभग 22 वर्ष से बंद पड़े यूनिवर्सल फेरो अलाइज कारखाने के मालिक ने 4 वर्ष पूर्व बिजली बिल माफ करवाकर अपने वादे से मुकर गए थे. उन्होंने सरकार व जनता के साथ धोखाधड़ी कर स्वयं का स्वार्थ सिद्ध किया था. इस कारण राज्य की भाजपा सरकार द्वारा जो कार्य नहीं किया गया था वह महाविकास आघाडी सरकार द्वारा कर कारखाना मालिक के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज करें एवं सरकार के माध्यम से कारखाना शुरु करवाकर क्षेत्र में बेरोजगारी से पीड़ित लोगों के  साथ न्याय करे इस आशय की मांग बेरोजगारी की मार झेल रहे लोगों ने सरकार से की गई है. उन्होंने यूनिफेरो कारखाना शुरू कर स्थानीय लोगों को फिर से रोजगार उपलब्ध कराने की मांग की गई है. 

    सरकार के माध्यम से शुरु करें कारखाना 

    वर्षो से कारखाना बंद होने के कारण क्षेत्र में बेरोजगारी त्रासदी बन चुकी है. इस बीच कुछ लोग काम करने के लिए बड़े शहरों में गए थे. लेकिन बीते 2 वर्ष में किए गए लॉकडाउन के कारण उन्हें नोकरी से निकाल दिया गया है. इस कारण वे अपने गांवो में आकर बेरोजगारी का जीवन व्यतीत कर रहे है.

    वर्तमान समय में नये कारखाने की नींव रखना काफी टेढ़ी खीर है. इस कारण यूनिफेरो कारखाने को सरकार के अधीन लेकर शुरू करने की पहल करनी चाहिए. इससे तुमसर व मोहाड़ी तहसील के लोगों को नौकरियां उपलब्ध होगी. साथ ही विकास को भी गति मिलेगी. इसके पूर्व सरकार ने राज्य के अनेक बंद पड़े कारखाने को अपने अधीन लेकर शुरू किए गए थे. वहीं फार्मूला अपनाते हुए यूनिफेरो कारखाना शुरू करना चाहिए

    मायल के माध्यम से शुरु करें कारखाना- सोनवाने

    यूनिफेरो कारखाना, मायल से संबंधित होने के कारण इस कारखाने को मायल द्वारा हस्तगत कर शुरू करने के निर्देश दिए जाए. इससे मायल को लाभ होने के साथ ही क्षेत्र के बेरोजगारों को नौकरियां उपलब्ध होंगी. वर्ष 2014 में चिखला परिसर के लोगों द्वारा मायल के तत्कालीन सीएमडी जे.पी. कुंदरगि से परिसर में मायल अंतर्गत कारखाना शुरू करने की मांग की गयी थी. तब उन्होंने मायल के माध्यम से कारखाना शुरू करने का आश्वासन भी दिया था. लेकिन आज तक इस दिशा में कोई पहल नहीं कि गई है. 5 वी बार राज्यसभा से चुनकर आए पटेल कारखाना शुरु करवाने में सार्थक प्रयास करेंगे ऐसी अपेक्षा है.