ST Strike
File Photo

    चंद्रपुर. पिछले एक महीने से अधिक समय पर चली आ रही राज्य परिवहन निगम कर्मचारियों की तडताल समाप्त करने का प्रयास निगम की ओर से जारी है. किंतु राज्य सरकार में विलय से कम में मानने को कर्मचारी तैयार नहीं है. वहीं दूसरी ओर कर्मचारियों का निलंबन जारी है आज चंद्रपुर के 3 कर्मचारियों को निलंबित किए जाने से कुल निलंबित कर्मचारियों की संख्या 93 हो गई है. वहीं 100 अस्थायी कर्मचारियों की आज तक सेवा समाप्त की जा चुकी है.

    चंद्रपुर की डिविजनल कंट्रोलर स्मिता सुतवाने ने कहा कि चंद्रपुर डिविजन में शुरु आंदोलन को समाप्त करने की उनकी पूरी कोशिश है. इसलिए वे स्वयं चंद्रपुर बस स्टैंड में शुरु आंदोलन मंडप पर पहुंची और कर्मचारियों से विचार विमर्श किया. किंतु आंदोलनरत कर्मचारी काम पर लौटने को तैयार नहीं है. वहीं बसों को सडक पर उतारने के लिए एसटी कर्मचारी संगठना के पदाधिकारियों से लगातार संपर्क कर प्रयास कर रही है.

    लौटने वाले कर्मचारियों को मिलेगी पुलिस सुरक्षा

    उन्होंने कहा कि रापनि के जो भी कर्मचारी काम पर लौटना चाहते है वे संपर्क कर काम पर लौट सकते है. काम पर लौटने वाले सभी कर्मचारियों को पुलिस की पूरी तरह से सुरक्षा प्रदान की जाएगी. लालपरी को सडक पर उतारने के लिए अपनी ओर से भरसक प्रयास कर रही है. इसके बावजूद आज तक एक भी कर्मचारी काम पर नहीं लौटा है. इसकी वजह से पैसेंजर, स्कूल, कालेज के छात्र, महिला कर्मचारियों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है.