कुरखेडा-चिखली टर्निंग पर किसानों का चक्काजाम, विधायक गजबे ने नेतृत्व में हुआ आंदोलन

    • धान खरीदी केंद्र तत्काल शुरू करने की मांग  

    कुरखेडा. समर्थन मुल्य खरीदी योजना अंतर्गत ग्रीष्मकालिन सीजन के धान खरीदी की मर्यादा बढाएं, धान खरीदी केंद्र तत्काल शुरू करे, इस मांग को लेकर आज 25 मई को विधायक कृष्णा गजबे के नेतृत्व में सैंकड़ों किसान सड़क पर उतरकर चिखली टर्निंग – कुरखेडा सड़क पर चक्काजाम व ठिय्या आंदोलन किया.

    महाविकास आघाडी सरकार ने किसानों का अंत न देखते हुए तत्काल धान खरीदी केंद्र शुरू करे, किसानों के बिते 3 वर्षो के बारदाने की राशी दे, ऑनलाइन किए गए संपूर्ण सातबाराधारक, वनपट्टा धारक किसानों के धान खरीदी करे, धान खरीदी का उद्देश यथाशिघ्र बढाए, आगामी 31 मई तक आरमोरी विस क्षेत्र के आदिवासी विभिन्न कार्यकारी संस्था व आदिवासी फेडरेशन के खरीदी केंद्र शुरू न होने पर तथा किसानों की मांगे पूर्ण न होने पर राज्य सरकार, प्रशासन को दोषी मानकार रास्तारोको, जलभरो आंदोलन करने की चेतावनी इस आंदोलन के दौरान विधायक गजबे ने प्रशासन को दी. 

    चक्काजाम आंदोलन में भाजपा के कुरखेडा शहर अध्यक्ष रविंद्र गोटेफोडे, भाजपा जिला उपाध्यक्ष गणपत सोनकुसरे, भाजयुमो जिलाध्यक्ष चांगदेव फाये, वरीष्ठ नेते खेमनाथ पाटील डोंगरवार, पार्षद सागर निरंकारी, पार्षद अतुल झोडे, प्रा. नागेश्वर फाये,  सरपंच सुषमा मडावी, उपसरपंच ओम प्रकाश बोगा, रोशन सय्यद, साईनाथ कवाडकर, उल्लास देशमुख, सेवादास पाटील खुणे, डा. परशुराम खुणे, उईके, राजु बारई, मानकर, सहारे, बंटी देवढगले समेत कुरखेड़ा तहसील के किसान व भाजपा के कार्यकर्ता बडी संख्या में उपस्थित थे. 

    अल्प मर्यादा से किसान धान बिक्री से वंचित 

    जिले में दि महाराष्ट्र स्टेट को-ऑपरेटिव्ह मार्केटिंग फेडरेशन लिमिटेड मार्फत 4 हजार 880 किसानों ने व महाराष्ट्र राज्य सहकारी आदिवासी विकास महामंड़ल मार्फत 8 हजार 422 किसानों ने धान बिक्री के लिए ऑनलाईन पंजीयन किया है. हेक्टेयर 24 क्विंटल के मर्यादा में धान खरीदी की मर्यादा पकड़ने पर कमसेकम 2 से 3 लाख क्विंटल धान खरीदी का उद्देश मिलना आवश्यक था. किंतू जिले को केवल 1 लाख 35 हजार 509 क्विंटल धान खरीदी का उद्देश दिया गया है.

    जिससे पंजीयन करनेवाले किसानों में से ही अनेक किसान समर्थनमुल्य खरीदी योजना से वंचित रहने की संभावना व्यक्त हो रही है. आदिवासीबहुल जिला होनेवाले गड़चिरोली जिले के किसानों के धान एक एकड़ में 16 क्विंटल के हिसाब से धान खरीदी करे, ऐसी मांग भी चक्काजाम आंदोलन में सहभागी किसानों ने की. 

    एसडीओ ने दी आंदोलन को भेट 

    इस दौरान चक्काजाम आंदोलनस्थल पर उपविभागीय अधिकारी दर्शन निकालजे ने भेट दी. उन्होने शुरूआत में आंदोलनकर्ता किसानों की बात सुनी. जिलाधिकारी से चर्चा कर 2 दिनों के भितर धान खरीदी केंद्र शुरू करे, आज पलसगड में धान खरीदी केंद्र शुरू होने की जानकारी बावणे ने दी.