आदिवासी बांधवों के साथ जवानों ने मनाई दिवाली, पेरमिली उपपुलिस थाने का उपक्रम

    •  मिचगुडा के ग्रामीणों को विभिन्न साहित्यों का वितरण 

    पेरमिली. अतिसंवेदनशील, अतिदुर्गम क्षेत्र में नक्सलियों का मुकाबला करनेवाले जिला पुलिस दल के जवान इस क्षेत्र के नागरिकों को विकास के मुख्य धारा से जोड़ने का भी प्रयास कर रहे है. फिलहाल दीपावली का पर्व मनाया जा रहा है. ऐसे में कर्तव्य पर तैनात पेरमिली उपपुलिस थाने की ओर से मिचगुडा इस अतिदुर्गम गांव को भेट देकर जवानों ने आदिवासी बांधवों के साथ दिवाली मनाई. इस दौरान दीपावली के उपलक्ष्य में नागरिकों को विभिन्न साहित्यों का वितरण कर दीपावली की शुभकामनाएं दी. 

    पुलिस अधिक्षक अंकित गोयल, अप्पर पुलिस अधिक्षक सोमय मुंडे, अनुज तारे, समीर शेख के संकल्पना से तथा उपविभागीय पुलिस अधिकारी सुदर्शन पाटील, उपविभागीय पुलिस अधिकारी अमोल ठाकुर के मार्गदर्शन में उप पुलिस थाना पेरमिली पोलीस दादालोरा खिड़की के माध्यम से इस वर्ष की दिवाली अतिदुर्गम क्षेत्र के आदिवासी बांधवों के साथ इस उपक्रम के तहत उप पुलिस थाना पेरमिली की ओर से 7 नवंबर को मिचगुडा के ग्रामीणों को साहित्य वितरीत किया गया.

    पुलिस थाना अंतर्गत अतिदुर्गम व नक्सल दृष्टि से अतिसंवेदनशिल होनेवाले मिचगुडा में जवानों ने ग्रामभेट देकर आदिवासी बांधवों के साथ दीपावली मनाई. इस समय नागरिकों को 40 ब्लैंकेट, मिठाई, फलाहार आदि साहित्यों का वितरण कर दीपावली की शुभकामनाएं दी. कार्यक्रम की प्रस्तावना पुलिस कर्मी महेश दुर्गे ने रखी.

    आभार अविनाश मडावी ने स्थानीय भाषा में माना. कार्यक्रम में गांव पटेल महारु बोडका तलांडी, प्रभारी अधिकारी धवल देशमुख, पुलिस कर्मचारी लीस, केशव गुरुनुले, अविनाश मडावी, महेश दुर्गे, विवेक सिडाम, मधुकर आत्राम, राहुल खार्डे, सीआरपीएफ के पुलिस निरीक्षक दास आदि समेत सीआरपीएफ, एसआरपीएफ के जवान उपस्थित थे. 

    स्थानीय भाषा में दी योजनाओं की जानकारी 

    उक्त कार्यक्रम में पुलिस कर्मी मधुकर आत्राम व विवेक सिडाम ने स्थानीय भाषा में आदिवासी बांधवों को विभिन्न सरकारी योजना तथा जिला पुलिस दल द्वारा चलाएं जा रहे पुलिस दादालोरा खिडकी संदर्भ में जानकारी दी. इसका लाभ लेकर प्रशासन को सहयोग करने का आह्वान किया. वहीं गांव की समस्याएं प्राथमिकता से हल करने के लिए पुलिस प्रशासन प्रयासरत होने की बात कहीं. 

    आदिवासी बांधवों ने माना पुलिस दल का आभार 

    अतिदुर्गम, आदिवासीबहूल क्षेत्र होनेवाले मिचगुडा में प्रथम बार पुलिस प्रशासन द्वारा दिवाली मनाई गई. इस दौरान पुलिस जवानों ने आदिवासीयों की समस्याएं समझी. तथा उसे हल करने का आश्वासन दिया. पुलिस दल के इस उपक्रम के चलते चलते मिचगुडा के ग्रामीणों ने पुलिस दल का विशेष आभार माना.