school
File Pic

    -आज से कक्षा पहली से चौथी तक की कक्षाएं होगी शुरू

    गड़चिरोली.  कोरोना संक्रमण के  चलते पिछले दो वर्षो से स्कूल न देख पानेवाले छात्र अब 1 दिसंबर को स्कूल देख पाएंगे. ग्रामीण क्षेत्र में  कक्षा पहली से चौथी और शहरी क्षेत्र में कक्षा पहली से सातंवी तक कक्षाएं शुरू करने का निर्णय सरकार द्वारा लिये जाने से अभिभावक समेत छात्रों में उत्साह दिखाई दे रहा है.

    बता दे कि, कोरोना की दूसरी लहर कम होने के बाद शहरी क्षेत्र में कक्षा 8 वीं के बाद और ग्रामीण क्षेत्र में कक्षा 5 वीं के बाद की कक्षाओं को शुरू किया गया था. 

    मात्र कक्षा पहली से चौथी तक की कक्षाएं शुरू करने में अनेक दिक्कते आ रही थी. ऐसे में छात्रों का शैक्षणिक नुकसान रोकने के लिये शहरी और ग्रामीण क्षेत्र में कक्षा पहली से सांतवी तक की कक्षाएं आवश्यक सुचनाओं का पालन कर शुरू करने का निर्णय राज्य सरकार ने लिया है. जिला शिक्षा विभाग द्वारा स्कूल शुरू करने संदर्भ में पूर्व तैयारी भी की गई है.

    बुधवार को संपूर्ण जिले में जिला परिषद के 1513 स्कूलों समेत अन्य ऐसे कुल 2041 स्कूल शुरू होंगे. कोरोना के चलते पिछले दो वर्षो से स्कूल बंद थे. लेकिन अब स्कूल शुरू होने से नवगतों समेत अभिभावकों में उत्साह का वातावरण दिखाई दे रहा है.

    उपाययोजना करना जरूरी

    स्कूल शुरू होने के बाद उपाययोजना करने संदर्भ में विभाग ने मार्गदर्शन सूचना जारी की है. जिसके नुसार स्कूल व परिसर में स्वच्छता, स्वास्थ्यदायी स्थिति रखने, सभी स्कूलों स्वास्थ्य विभाग से समन्वय रखने, इसके लिये इच्छूक डाक्टर, अभिभावकों की मदद लेने, अधिक छात्र संख्यावाले स्कूलों में प्रतिदिन दो सत्र में शिक्षा देने, छात्र, शिक्षक व कर्मचारियों की प्रतिदिन थर्मल स्क्रिनिंग जांच करने, वर्तमान स्थिति में कक्षा पहली से लेकर चौथी तक के छात्रों की किसी की तरह की क्रिडा स्पर्धा न लेने, छात्रों के सुरिक्षत सफर के लिये वाहनचालक व मदतनीस का 100 फिसदी टीकाकरण करने की बात कही गई है.

    कोरोना नियमों का पालन होगा: परसा

    प्राथमिक शिक्षाधिकारी हेमलता परसा ने कहां कि, कोरोना नियमों संदर्भ में स्कूलों द्वारा आवश्यक सतर्कता बरती जाएगी. इसमें प्रमुखता मास्क, सैनीटाईजर का उपयोग, शारिरीक दूरी का पालन करने संदर्भ में सतर्कता बरती जाएगी. शिक्षकों का 100 फिसदी कोरोना टीकाकरण किया गया है. शिक्षकों की तबीयत खराब होने पर स्कूल में न आने की सूचना दी गई है. कोरोना संदर्भ में सभी नियमों का पालन किया जाएगा. ऐसी बात उन्होंने कही.