दिनभर जारी रही पानी टंकी सफाई का कार्य, पाईपलाईन में शव मिलने के बाद सतर्क हुआ नप

    गड़चिरोली. शुक्रवार को दोपहर के समय शहर के चामोर्शी मार्ग पर स्थित सेलिब्रेशन फंशन हॉल समीपस्थ पाईपलाईन में विवेकानंदनगर निवासी योगेश देवोजवार नामक व्यक्ति का शव मिला था. इस मामले से नगर परिषद प्रशासन समेत संपूर्ण गड़चिरोली शहर में खलबली मच गयी थी.

    इस घटना के बाद नगर परिषद प्रशासन सतर्क होकर शनिवार को सुबह से ही पानी टंकी की सफाई करने के कार्य शुरू कर दिया. इसके अलावा नगर परिषद ने शनिवार को सुबह और शाम के समय संबंधित क्षेत्र की जलापुर्ति बंद कर दी थी. लेकिन दुसरी ओर शहर के पानी टंकी की सुरक्षा अधर में होने और ऐसी घटना उजागर होने के बाद शहर के नागरिकों में नगर परिषद की कार्यप्रणाली के प्रति तीव्र नाराजगी व्यक्त की जा रही है. 

    लोगों को हुई दुषित जलापुर्ति, जिम्मेदार कौन?

    गुरूवार की रात योगेश देवोजवार नामक व्यक्ति विवेकानंदनगर स्थित पानी की टंकी पर चढ़कर पानी में गिर गया. वहीं उसका शहर जलापुर्ति के पाईपलाईन से बहते हुए करीब 500 मिटर दूरी तक पहुंच गया.

    ऐसे में शुक्रवार को सुबह परिसर के नागरिकों को नल की सहायता से जलापुर्ति की गई. नलधारकों ने उक्त पानी का उपयोग भोजन बनाने, पिने और अन्य कार्य के लिये उपयोग किया था. ऐसे में शव पाईपलाईन में फंसने और चोकअप होने के बाद खुदाई के दौरान शव मिलने से लोगों को दूषित जलापुर्ति होने की बात स्पष्ट हुई. जिससे लोगों को दृषित जलापुर्ति होने के मामले में जिम्मेदार कौन? ऐसा सवाल शहर के नागरिकों द्वारा पुछा जा रहा है. 

    नगर परिषद पर करें मामला दर्ज: शेकाप

    नगर परिषद की लापरवाह कार्यप्रणाली के चलते विवेकानंदनगर स्थित पानी की टंकी में डुबकर एक युवक की मृत्यु हुई. वहीं उसका शव पाईपलाईन में मिला. जिससे कारण शहरवासियों को दूषित जल पिना पड़ा. शुक्रवार को शाम के समय अनेक लोगों को उल्टिया, अस्वस्थ्य लगने लगा. इस मामले को गड़चिरोली नगर परिषद ही जिम्मेदार है.

    नगर परिषद द्वारा किसी भी तरह की सुरक्षा नहीं रखे जाने के कारण पानी की टंकी में मृत्यु होने और लोगों को दूषित जलापुर्ति  होने के मामले में नगर परिषद के संबंधित विभाग के अधिकारियों पर मामला दर्ज करें, ऐसी मांग शेतकारी कामगार पक्ष के श्हार चिटणीस देवेंद्र चिमणकर ने जारी प्रेस विज्ञप्ति में की है.

    अब नप बनाएंगी पानी टंकी को सुरक्षा घेरा

    शुक्रवार को जलापुर्ति की पाईपलाईन में युवक का शव मिलने की घटना के बाद नगर परिषद प्रशासन हरकत में आ गया है. शनिवार को सुबह से ही संबंधित पानी टंकी की सफाई करने की प्रक्रिया शुरू की गई. इसके लिये नगर परिषद ने संबंधित क्षेत्र की जलापुर्ति सुबह और शाम के समय नहीं की. इस घटना का गंभीरता से संज्ञान लेते हुए अब नगर परिषद प्रशासन शहर के सभी पानी टंकी परिसर में सुरक्षा घेरा तैयार करेगी. ऐसी जानकारी नगर परिषद से मिली है.