Roshani Scam

    गोंदिया. जिले में पिछले कई वर्षों से शासकीय समर्थन मूल्य योजना के तहत धान खरीदी के लिए केंद्र शुरू किए गए हैं. पिछले कुछ वर्षों में प्राप्त हुई शिकायतों के मद्देनजर गोरेगांव की नेहरू सहकारी धान गिरणी संस्था के धान खरीदी केंद्र का लेखा परीक्षण किया गया. जिसमें 3 करोड़ 77 लाख 98 हजार 600 रु. की गड़बड़ी सामने आई है.

    जिला विशेष लेखा परीक्षक वर्ग 1 ने अपनी जांच रिपोर्ट में इस बात का उल्लेख किया है. इसी जांच रिपोर्ट के आधार पर गोरेगांव पुलिस ने 10 जून को नेहरू सहकारी धान गिरणी के संचालक मंडल समेत 24 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है. वर्ष 2018-19 एवं 2019-20 में यह भ्रष्टाचार हुआ.

    इस शिकायत में गोरेगांव तहसील की नेहरू सहकारी धान गिरणी के दवड़ीपार व कवलेवाड़ा के धान खरीदी केंद्र का उल्लेख किया गया है. 1 अप्रैल 2018 से 31 मार्च 2020 के बीच यह भ्रष्टाचार होने का भी उल्लेख है. गोरेगांव थाने में सहकार आयुक्त कार्यालय द्वारा नियुक्त जांच समिति की शिकायत पर मामला दर्ज हुआ है. आरोपियों में 11 संचालक, 12 ग्रेडर व एक केंद्र अध्यक्ष समेत 24 लोगों का समावेश है.