maharashtra corona
Representative Photo

    मुंबई: महाराष्ट्र (Maharashtra) में ओमीक्रोन (Omicron In Maharashtra) के मामले बुधवार सुबह तक बढ़कर 167 हो गए हैं। मुंबई (Mumbai) में लगातार बढ़ रहे कोविड (Covid-19 Cases In Mumbai) ) केस को लेकर महाराष्ट्र में चिंता बढ़ गई है। इस बीच मुंबई में कोरोना के बढ़ते मामलों की रोकथाम के लिए प्रशासन की हाईलेवल मीटिंग हुई है। बताया जा रहा है कि, इस मीटिंग में बीएमसी कमिश्नर इकबाल सिंह चहल (BMC Chief Iqbal Singh Chahal), मुंबई की मेयर किशोरी पेडनेकर (Mumbai Mayor Kishori Pednekar) और आदित्य ठाकरे (Aditya Thackeray) समेत प्रशासन के आला अधिकारी मौजूद रहे।    

    एएनआई के अनुसार, महाराष्ट्र के मंत्री आदित्य ठाकरे, मेयर किशोरी पेडनेकर और बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) के आयुक्त इकबाल सिंह चहल ने शहर में मौजूदा कोविड स्थिति पर चर्चा करने के लिए बैठक की है। इससे पहले, महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे (Maharashtra Health Minister Rajesh Tope) ने कहा कि, राजेश टोपे ने कहा कि, राज्य में एक्टिव केस की संख्या बढ़ना चिंता का विषय है। मुंबई का पॉजिटिविटी रेट 4% है। अगर यह 5% से ऊपर जाता है, तो हमें प्रतिबंध लगाने के बारे में सोचना होगा। सीएम जल्द कोविड टास्क फोर्स के साथ बैठक करेंगे। 

    एएनआई के मुताबिक, टोपे ने बताया कि, राज्य में अब तक 167 ओमीक्रोन के मामले सामने आए हैं। इनमें से 19 मरीजों को छुट्टी मिल चुकी है। इनमें से कोई भी मरीज गंभीर स्थिति में नहीं था। हमें सार्वजनिक परिवहन, विवाह समारोह आदि में भीड़ को नियंत्रित करने के लिए प्रतिबंध लगाने के बारे में सोचना होगा। 

    एक रिपोर्ट में बीएमसी के वरिष्ठ अधिकारी के हवाले से बताया गया है कि, हाल ही में अपने अधिकारियों को राज्य और केंद्र सरकार द्वारा निर्धारित दिशा-निर्देशों को सख्ती से लागू करने के निर्देश दिए गए हैं। इसे ध्यान में रखते हुए बीएमसी ने अपने वार्ड स्तरीय अधिकारियों की टीमों को नए साल के मद्देनज़र मुंबई की चौपाटीयों पर पार्टियों और सभाओं पर नजर रखने के लिए कहा है।