exam
File Pic

    मुंबई:  राज्य में ओमीक्रोन (Omicron) का खतरा धीरे-धीरे बढ़ रहा है, ऐसे में मरीजों (Patients) की संख्या बढ़ती है तो एक बार फिर दसवीं और बारहवीं बोर्ड की परीक्षा (Board Exam) में खलल पड़ जाएगा। यही कारण है बोर्ड की परीक्षाओं का टाइम टेबल (Time Table) आमतौर पर घोषित हो जाता है, लेकिन कोविड (Covid) के कारण यह एक बार फिर लटक गया है। राज्य माध्यमिक और उच्च शिक्षा बोर्ड ने कहा कि बोर्ड परीक्षा फरवरी के अंतिम सप्ताह से होने की संभावना है, जिस समय कोरोना (Corona) की स्थिति के आधार पर उचित निर्णय लिया जाएगा।

    सामान्य दिनों में फरवरी में होने वाली 12वीं की परीक्षा का टाइम टेबल दिसंबर तक घोषित कर दिया जाता है, लेकिन इस बार ओमीक्रोन के कारण अभी तक टाइम टेबल जारी नहीं किया गया है। ऐसे में विद्यार्थियों और अभिभावकों के साथ-साथ शिक्षकों में भी परीक्षा को लेकर असमंजस का माहौल है। लिखित परीक्षा से पहले स्कूल और जूनियर कॉलेज स्तर पर मौखिक, व्यावहारिक और ग्रेड परीक्षा आयोजित की जाती है। हालांकि परीक्षाओं को लेकर स्कूलों को शिक्षा बोर्ड की ओर से कोई निर्देश नहीं मिला है। बोर्ड परीक्षा को लेकर तरह-तरह के तर्क दिए जा रहे हैं।

    • शिक्षा बोर्ड दसवीं और बारहवीं की लिखित परीक्षा कराने को तैयार है। परीक्षाओं का शेड्यूल भी तैयार है और सिर्फ सरकार की मंजूरी का इंतजार है। स्कूलों से परीक्षा केंद्र, कोरोना रोकथाम सावधानियां, आंतरिक, बाहरी परीक्षक के संबंध में जानकारी मांगी गई है।
    • कोरोना की तीसरी लहर के कारण लिखित परीक्षा नहीं होने पर शिक्षा बोर्ड के पास मूल्यांकन का दूसरा विकल्प है।
    • स्कूल स्तर पर आयोजित परीक्षाओं के अलावा शिक्षा बोर्ड ने मूल्यांकन के लिए कुछ अन्य विकल्पों पर भी विचार किया है। फिलहाल बोर्ड इस बारे में कोई जानकारी साँझा नहीं कर रहा है।

    10वीं के परीक्षा फॉर्म भरने की समय सीमा बढ़ाई

    राज्य शिक्षा बोर्ड ने दसवीं कक्षा के लिए ऑनलाइन परीक्षा फॉर्म बहाने की समय सीमा बढ़ा दी है। विद्यार्थी नियमित शुल्क के साथ 20 दिसंबर तक ऑनलाइन आवेदन जमा कर सकते हैं। इसके बाद आवेदन करने वाले विद्यार्थी से विलंब शुल्क लिया जाएगा। विलंब शुल्क के साथ आवेदन करने की अंतिम तिथि 28 दिसंबर है। बोर्ड की वेबसाइट www.mahahsscboard.in से आवेदन कर सकते हैं।

    स्कूल खुले रहेंगे

    स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा कि राज्य में स्कूल बंद करने का सवाल ही नहीं उठता। हमने टॉस्क फ़ोर्स से भी इस संदर्भ में चर्चा की फिलहाल स्थिति पूरी तरह नियंत्रण में है। कोविड प्रोटोकॉल का पालन हमें करना हैं।

    राज्य शिक्षा बोर्ड 10वीं और 12वीं की लिखित परीक्षा लेने के लिए तैयार है। राज्य के शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में दसवीं और बारहवीं कक्षा के स्कूल खुल चुके हैं। विद्यार्थियों की उपस्थिति भी अच्छी है स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा जल्द ही 10वीं और 12वीं की परीक्षाओं का टाइम टेबल घोषित किया जाएगा। यदि परीक्षा के दौरान कोरोना के कारण कोई आपात स्थिति उतपन्न होती है, तो परीक्षा के लिए किसी अन्य विकल्प पर विचार किया जा सकता है। विद्यार्थियों को फिलहाल अपनी पढ़ाई पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए।

    - शरद गेसावी, प्रभारी अध्यक्ष, राज्य माध्यमिक और उच्च माध्यमिक शिक्षा बोर्ड