Mumbai, Drugs Party, Case, Nationalist Congress Party, Minority Welfare Minister, मास्टरमाइंड, संबंध, खारिज, मीडिया
Pic Credit - ANI

    मुंबई : क्रूज ड्रग्स पार्टी (Drugs Party) मामले में लगातार नए-नए खुलासे हो रहे है। भाजपा नेता मोहित कंबोज (Mohit Kamboj) ने धुलिया (Dhuliya) जिले के रहने वाले सुनील पाटिल (Sunil Patil) को पूरे प्रकरण (Case) का मास्टरमाइंड (Mastermind) बताते हुए कहा था कि उसका राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (Nationalist Congress Party) से संबंध है। अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री नवाब मलिक ने भी उसे बदमाश बताते हुए जांच की मांग की थी।

    अब सुनील पाटिल मीडिया के सामने आया है। उसने सभी आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि उसे जान का खतरा है। उसके साथ मारपीट की गई है। सुनील पाटिल ने कंबोज के उन आरोपों से भी इंकार किया है। जिसमें उन्होंने कहा था कि पाटिल का पूर्व गृहमंत्री के बेटे और वर्तमान गृहमंत्री सहित अन्य राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी नेताओं से संबंध है।

    सीसीटीवी फुटेज निकाल कर इसकी भी जांच होनी चाहिए

    मीडिया से रूबरू होते हुए सुनील पाटिल ने कहा कि वह पूर्व गृहमंत्री अनिल देशमुख के बेटे ऋषिकेश देशमुख को नहीं पहचानता है। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी प्रवक्ता नवाब मलिक और वह गृहमंत्री दिलीप वलसे-पाटिल से कभी नहीं मिला है। उसने कंबोज के तरफ से लगाए गए सभी आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि आर्यन खान मामले में उसे फंसाया गया है। मेरे राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी से संबंध बताए गए है, इसकी जांच होनी चाहिए। मैं कभी भी सह्याद्री अतिथि गृह में नहीं गया हूं। सीसीटीवी फुटेज निकाल कर इसकी भी जांच होनी चाहिए।

    ऋषिकेश देशमुख से मेरा कोई संबंध नहीं

    मीडिया से बातचीत के दौरान सुनील पाटिल ने कहा कि, मैं नवाब मलिक से कभी नहीं मिला हूं, हालांकि 10 नवंबर को मेरी बात मलिक से हुई थी। मैंने उन्हें बताया था कि इस मामले में मुझे फंसाया गया है। मुझे इस बात का भी डर है कि मेरी हत्या हो सकती है। ऋषिकेश देशमुख से मेरा कोई संबंध नहीं है। उन्हें मैं पहचाना नहीं हूं। कंबोज ने गृहमंत्री दिलीप वलसे पाटिल का नाम लिया, फर्जी रिकार्डिंग दिखाई। उसकी भी जांच होनी चाहिए।  पूर्व गृहमंत्री अनिल देशमुख कोरोना काल में एक बार धुलिया आए थे। उस समय उनसे मुलाकात हुई थी।