Chhagan Bhujbal
File Photo

    नागपुर. अन्न आपूर्ति मंत्री छगन भुजबल ने कहा कि ओबीसी आरक्षण मामले का निराकरण होने तक चुनाव नहीं कराने का जो आवेदन भाजपा की ओर से दिया जा रहा है वह उसका ढोंगीपन है. राज्य सरकार प्रयास कर रही है उस पर केन्द्र की भाजपा सरकार भी रोड़ा अटका रही है. भुजबल ने एयरपोर्ट पर पत्रकारों के सवालों के जवाब में उक्त आरोप भाजपा व केन्द्र सरकार पर लगाया है.

    वे गडचिरोली में आयोजित एक कार्यक्रम में शामिल होने आये थे. नागपुर एयरपोर्ट पर पत्रकारों ने इस संदर्भ में सवाल किया था. उन्होंने कहा कि 2019 में विधानसभा चुनाव समीप आने पर देवेन्द्र फडणवीस ने अध्यादेश निकाला. फडणवीस ने केन्द्र सरकार से ओबीसी का एम्पिरिकल डाटा मांगा था. केन्द्र ने तब ओबीसी का डाटा नहीं है, कभी नहीं कहा था. अब केन्द्र सरकार झूठ बोल रही है.

    भाजपा का ही षडयंत्र

    भुजबल ने कहा कि केन्द्र सरकार मंत्रियों पर जांच पर जांच बिठा रही है और दूसरी ओर ओबीसी डाटा नहीं दे रही है. 2021 में जनगणना भी केन्द्र ने शुरू नहीं की. केन्द्र सरकार का कहना है कि हमने ओबीसी डाटा एकत्र नहीं किया. यह देशभर के ओबीसी समाज को अड़चन में लाने और आरक्षण रोकने का भाजपा का षडयंत्र है.

    उन्होंने चंद्रकांत पाटिल के उस बयान पर चिमटी काटी कि भाजपा 40-50 वर्ष सत्ता में रहेगी. उन्होंने कहा कि पाटिल सपना देख रहे हैं. उन्होंने कहा कि राज्य की मविआ सरकार को किसी तरह का खतरा नहीं है. एक ही पार्टी की सरकार में भी मतभेद होता है. यह तीन पार्टी की सरकार है लेकिन मजबूत है.