Dhanteras, Gold
File Photo

  • सोने-चांदी की जमकर की खरीदारी

नागपुर. बाजार में धनतेरस पर धन की बरसात हुई. सराफा दूकानों में सुबह से ही अच्छी खासी भीड़ देखी गई. लोग अपने अनुसार खरीदी करते हुए देखे गए. सोना और चांदी की ऊंची कीमतें भी इनके कदम नहीं रोक पाएं. महिलाओं की भीड़ शोरूमों में देखने को मिली. कारोबार देखकर सराफा कारोबारी उत्साहित दिखे. उनका कहना हैं कि पिछले 2 वर्ष की तुलना में दिवाली काफी अच्छी रही. सोने की कीमतों में नरमी से भी खरीदारी बढ़ी. हिंदू मान्यता के अनुसार धनतेरस को कीमती धातुओं से लेकर बर्तनों तक की खरीदारी के लिए सबसे शुभ दिन माना जाता है. व्यापारियों का कहना है कि मंगलवार को शुरू खरीदी बुधवार सुबह तक जारी रहेगी क्योंकि कई लोग बुधवार को धनतेरस मना रहे हैं.

जोरदार उछाल

रोकड़े ज्वेलर्स के राजेश रोकड़े ने कहा कि दिवाली बेहतरीन रही. अधिकांश दूकानों में खरीदार दिखे. लोगों ने मन से खरीदी की. नियम पालन करने वालों की संख्या भी अच्छी रही लेकिन भारी जेवरातों की खरीदी कम नहीं हुई. पिछले वर्ष की तुलना में कीमत कम होने का असर भी मार्केट में रहा.

ऑटो शोरूम में डिलीवरी

टू व्हीलर और फोर व्हीलर शोरूमों में वाहनों की डिलीवरी सुबह से शुरू हो गई थी. जिन लोगों ने पहले से बुकिंग कराई थी, वे वाहन की डिलीवरी ले रहे थे. वहीं कई लोगों को बुकिंग करते हुए भी देखा गया. अनेक लोग ऐसे भी हैं जो दिवाली के दिन डिलीवरी लेने को इच्छुक हैं. हालांकि टू व्हीलर और फोर व्हीलर की बुकिंग करने वाले सैकड़ों लोगों को डिलीवरी नहीं भी मिल पाई है. शोरूमों के पास बुकिंग ज्यादा रही और डिलीवरी के वाहन कम रहे. वाहनों की डिलीवरी मिलते ही लोग मंदिरों में पहुंचे. अनेक मंदिरों में पुजारी वाहनों की पूजा करते हुए देखे गए.

TV, फ्रिज की भी अच्छी मांग 

इलेक्ट्रॉनिक्स उत्पादों की मांग भी अच्छी रही और लोगों ने एलईडी टीवी, फ्रिज, वॉशिंग मशीन, माइक्रोवेव ओवन की खरीदी करते हुए देखे गए. वर्ल्ड कप को देखते हुए पिछले कुछ समय से एलईडी के प्रति जबरदस्त आकर्षण देखा जा रहा है. विक्रेताओं के अनुसार जो ग्राहक कोविड के कारण पिछले 2 वर्ष से रुके हुए थे वे अब पुराने टीवी को नए एलईडी से अपग्रेड कर रहे हैं. खासकर बड़े आकार की एलईडी और उनके साथ म्यूजिक सिस्टम काफी पसंद किया जा रहा है.

बर्तन, कपड़े भी खूब बिके

इस बीच धनतेरस पर बर्तन, चांदी की प्रतिमाओं की भी खरीदारी करते लोग नजर आए. इस दिन बर्तनों की भी अच्छी मांग रहती है. इसे देखते हुए विक्रेताओं ने भी तैयारी कर रखी थी. इसके अलावा दूकानों और मॉल्स में कपड़े की खरीदी करते भी लोग देखे गए. अंतिम मौके पर खरीदी करने वाले अभी भी बाजारों का रुख कर रहे हैं. दिवाली के लिए मिट्टी के दीये, लाइटिंग खरीदी की गई. दिवाली के एक दिन पूर्व मिठाई, फूल, लक्ष्मी की मूर्ति और अन्य पूजन सामग्री की खरीदी करने के लिए लोग बाजारों का रुख करेंगे. 

सड़कें जाम, पुलिस को करनी पड़ी मशक्कत

शहर के प्रमुख बाजारों जैसे इतवारी, गांधीबाग, धरमपेठ, सीताबर्डी, सदर में खरीदारों की भीड़ से सड़कें पैक हो गई. जाम से लोगों में कई स्थानों पर कहासुनी होती भी देखी गई. भारी ट्रैफिक को कंट्रोल करने में यातायात पुलिस को काफी मशक्कत करनी पड़ी. कार, टू-व्हीलर की रेलपेल के कारण ग्राहकों को पार्किंग के लिए यहां-वहां भटकना पड़ा.