सरकारी राशन वितरण में धांधली, शिवसेना ने अधिकारी का किया घेराव

    नागपुर. सरकारी राशन दूकानों से कार्डधारकों को बहानेबाजी कर पूरा राशन नहीं दिया जा रहा है. इसके साथ ही अधिक रकम वसूल कर रसीद भी नहीं दी जा रही है. इस धांधली के खिलाफ शिवसेना सम्पर्क प्रमुख दुष्यंत चतुर्वेदी के मार्गदर्शन और शाखा प्रमुख सबरूद्दीन खान, शहर प्रमुख नितिन तिवारी के नेतृत्व में पीड़ित नागरिकों के साथ राशन अधिकारी भास्कर तायड़े का घेराव किया गया.

    तिवारी ने उन्हें जानकारी दी कि दूकानदारों द्वारा महीने का अधिकृत राशन कोटा नहीं देने, निर्धारित दरों से अधिक कीमत वसूल करने और रसीद नहीं देने, महीने के कोटे की जानकारी फलक पर नहीं लिखने, नये राशन कार्ड बंद होने सहित अनेक शिकायतें मिल रही हैं. उन्होंने अधिकारी को बताया कि जनता को उनके सरकारी कोटे की जानकारी छिपाकर उनके हक का राशन बाहर ब्लैक मार्केट में बेचा जा रहा है. अगर कोई कार्डधारक दूकानदार से जानकारी मांगता है तो उसे राशन बंद करने की धमकी दी जाती है.

    अधिकारियों का संरक्षण

    आरोप लगाया गया कि सरकारी दूकानदार विभाग के अधिकारियों के संरक्षण में कार्डधारक गरीब जनता के साथ अन्याय कर रहे हैं. अगर यह बंद नहीं किया गया तो संबंधित दूकान के ऑडिट सहित सरकारी अधिकारियों के खिलाफ निलंबन की मांग के साथ विधानसभा शीत सत्र के दौरान शिवसेना द्वारा विशाल हल्ला बोल मोर्चा निकाला जाएगा. इस दौरान शहर प्रमुख दीपक कापसे, सुरेश साखरे, हितेश यादव, दिगंबर ठाकरे, मुन्ना तिवारी, शिवशंकर मिश्रा, नीलिमा शास्त्री, ज्ञानलता गुप्ता, मीना अड़कने सहित बड़ी संख्या में शिवसैनिक उपस्थित थे.