The question paper reached the center in small quantities, the students gheraoed the officials

    नाशिक. स्वास्थ्य विभाग (Health Department) की परीक्षा (Examination) में नाशिक(Nashik) के गिरनारे केंद्र पर बड़ी मात्रा में प्रश्न पत्रिका (Question Paper) की कमी हो जाने से छात्रों ने यहां उपद्रव (Nuisance) मचाना शुरू कर दिया और स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को आड़े हाथों लिया। लेकिन अधिकारी भी उस समय मजबूर (Compelled) दिखाई दिए और जैसे-तैसे अपनी जान छुड़ाते हुए नजर आए।

    सूत्रों से मिली  जानकारी के अनुसार स्वास्थ्य विभाग की ओर से  रविवार को भर्ती के लिए परीक्षा आयोजित की गई थी। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग ने पूरा नियोजन किया था। ऐसा दावा किया जा रहा था। लेकिन नाशिक में विभाग का ये दावा पूरी तरह से फेल होता दिखाई दिया। 

    गौरतलब है कि स्वास्थ्य विभाग की ओर से भर्ती प्रक्रिया के लिए आयोजित की गई परीक्षा में प्रश्न पत्रिका को शनिवार की रात से ही केंद्रों पर पहुंचाने का काम शुरू था। इसके लिए अलग-अलग दस्ते बनाए गए है। उन दस्तों के माध्यम से प्रश्न पत्रिका के बंडल परीक्षा केंद्रों पर रवाना किए गए। लेकिन नाशिक शहर के करीबी केंद्र गिरनारे में परीक्षा केंद्र पर बंडल कम पड़ गए।

    छात्रों ने कर्मचारियों से जानकारी मांगी

    जबकि यहां परीक्षार्थियों की संख्या अधिक थी। ऐसे में यहां परीक्षा का समय हो जाने के बाद भी कई परीक्षार्थियों को प्रश्न पत्रिका नहीं मिली। जिससे परेशान होकर छात्रों ने कर्मचारियों से जानकारी मांगी। पहले तो कर्मचारियों ने कहा कि प्रश्न पत्रिका आ रही है। लेकिन कुछ देर बाद स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी वहां पहुंचे और उन्होंने बताया कि प्रश्न पत्रिका कम आई है। इतना सुनते ही परीक्षार्थियों ने यहां धमा चौकड़ी मचाना शुरू कर दिया।

    गाड़ी का घेराव करने का प्रयत्न किया गया

    स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी जिस गाड़ी से आए थे। उस गाड़ी का घेराव करने का प्रयत्न किया गया। लेकिन स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने किसी सवाल का जवाब नहीं दिया। इस बात से गुस्साए परीक्षार्थियों ने भीड़ जमा कर के अधिकारियों से कारण बताने को कहा। लेकिन अधिकारी किसी बात का जवाब दिए बिना वहां से चले गए। घटना की जानकारी मिलते ही तुरंत तहसील पुलिस थाना की पुलिस वहां पहुंचकर मामले को संभालने का प्रयास करने लगी।