150 year old idol of Lord Shiva found in Bhima river

पुणे. भीमा नदी (Bhima River) में की जा रही खुदाई के दौरान भगवान शिव (Lord Shiva) की करीब 150 साल पुरानी (150 Years Old)विशालकाय मूर्ति पाई गई है। इस मूर्ति का वजन करीब एक टन से भी अधिक बताया जा रहा है। यह ब्रिटिश कालीन मूर्ति बताई जा रही है जिसे लेकर स्थानीय लोग अलग-अलग अंदाजे लगाते हुए दावे कर रहे हैं.

इस संबंध में मिली जानकारी के अनुसार, भीमा नदी में 28 मोरयां के पुल के पास रेलवे (Railway) की ओर से दौड-नगर रेल मार्ग के लिए पुल निर्माण के लिए खुदाई कार्य किया जा रहा है। इसी खुदाई कार्य के दौरान भगवान शिव के मुख वाली यह विशालकार मूर्ति प्राप्त हुई है। खोदते समय जब यह मूर्ति दिखाई पड़ी, तो इस मूर्ति को आस-पास सफाई करके खोदा गया और मूर्ति सुरक्षित बाहर निकाल ली गई। 

मूर्ति काफी पुरानी

खास बात यह कि यह मूर्ति काफी पुरानी है और अपने जमाने में यह पूर्णाकृति की विशालकाय मूर्ति रही होगी।  इस संबंध में कुछ लोगों का कहना है कि यह मूर्ति पानी में बहते हुए यहां तक पहुंची होगी तो विशेषज्ञों का दावा है कि इतनी वजनी मूर्ति पानी में बह नहीं सकती इसलिए यह जहां मिली है उसी के आस-पास की रही होगी। बहरहाल इस मूर्ति को देखने के लिए अब दूर-दूर से ग्रामीण यहां आ रहे हैं जिससे आज रविवार को यहां अच्छी खासी भीड़ लगी रही। भीड़ की वजह से खुदाई काम भी प्रभावित रहा।