Vaccination in pune

    पुणे. कोरोना महामारी (Corona Pandemic) के मौजूदा हालात की समीक्षा बैठक के बाद उपमुख्यमंत्री और पुणे जिले (Pune District) के पालकमंत्री अजीत पवार (Guardian Minister Ajit Pawar) ने कहा कि सीएसआर फंड (कॉरपोरेट सोशल रिस्पांसिबिलिटी) से वैक्सीन की पांच लाख डोज उपलब्ध हुए हैं। प्रत्येक निर्वाचन क्षेत्र में 75 घंटे का टीकाकरण कार्यक्रम (Vaccination Program) लागू किया जाएगा। पुणे में कोरोना का मृत्यु दर 1.7 प्रतिशत है। जो पिंपरी-चिंचवड़ में 1.5 और ग्रामीण में 0.8 फीसदी है। पिछले हफ्ते पांच लाख लोगों को टीका लगाया गया था। कोरोना प्रतिबंधात्मक टीकाकरण में 5 फीसदी की वृद्धि हुई है।

    पवार ने बताया कि पहली खुराक लेने के बाद 0.19 फीसदी लोग कोरोना से संक्रमित हुए और दूसरी खुराक लेने के बाद 0.25 फीसदी लोग कोरोना से संक्रमित हुए हैं। उन्होंने कहा कि पहली डोज के मुकाबले दूसरी डोज लेने के बाद कोरोना संक्रमण की संख्या ज्यादा क्यों, इस बारे में डॉक्टर से पूछा। इस पर डॉक्टर ने कहा कि लोग दूसरा डोज लेने के बाद बिना मास्क के घूमने लगते हैं। वो ध्यान नहीं रखते हैं, इसलिए ऐसा होता है। 

    उपमुख्यमंत्री ने की नागरिकों से अपील

    अजीत पवार ने नागरिकों से अपील की कि अपना, अपने परिवार और खुद का ख्याल रखें। उन्होंने कहा कि एक्टिव मरीजों की संख्या में कमी आई है। ससून अस्पताल में करीब 40 फीसदी मरीज नगर जिले के हैं। इस जानकारी को समझने के बाद, मैंने नगर, नासिक के प्रशासनिक अधिकारियों से चर्चा की। उन्हें टेस्टिंग में मदद की ज़रूरत थी। नगर जिले के संगमनेर और पारनेर में मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। वहां सख्त पाबंदियां लगाएं और कोरोना संक्रमण को रोकें, यह आदेश दिया गया है।

    शिरूर के विकास के लिए निधि की कमी न होने देंगे

    शिरूर नगर परिषद के नए प्रशासनिक बिल्डिंग के लोकार्पण समारोह में उपमुख्यमंत्री अजीत पवार ने भरोसा दिलाया कि शिरूर परिसर के विकास कार्यों के लिए मार्च आखिर तक 25 करोड़ रुपए का प्रावधान करेंगे। यहां विकास के लिए फंड कम नहीं पड़ने देंगे। 

    प्रशासन को सहयोग दें नागरिक

    अजीत पवार ने  कहा कि नगर परिषद की नई प्रशासनिक बिल्डिंग शिरूर के वैभव में चार चांद लगाने वाला निर्माण कार्य है। इस बिल्डिंग के जरिए किसी भी नागरिक के साथ अन्याय नहीं होने दे और लोकाभिमुख और पारदर्शी काम होना चाहिए। हर निर्णय शहर के विकास को बढ़ावा देने वाला होना चाहिए। नागरिकों की समस्याओं के समाधान के लिए सभी को साथ लेकर शिरूर का विकास करें। नागरिक अपनी जिम्मेदारियों को समझते हुए प्रशासन को सहयोग दें। पुणे महानगर विकास प्राधिकरण द्वारा जारी किये गए डेवलपमेंट प्लान को लेकर नागरिकों की आपत्तियां आने पर उस पर उचित विचार किया जाएगा। पुणे से शिरूर रोड के डबल फ्लोर के काम के लिए केंद्र से फंड उपलब्ध कराया गया है। पालखी मार्ग की लंबित समस्याओं का जल्द समाधान कर विकास कार्यों के लिए प्रयासरत रहेंगे। इस मौके पर सांसद डॉ. अमोल कोल्हे, नगर अध्यक्ष वैशाली वाखारे आदि उपस्थित थे।