India Corona Updates
File Photo

    पिंपरी : जनवरी (January) की शुरुआत से ही कोरोना संक्रमण (Corona Infection) बढ़ने लगा था इसलिए पिंपरी-चिंचवड (Pimpri Chinchwad) समेत समस्त पुणे (Pune) में दहशत का माहौल था। हालांकि पिछले चार दिनों से पिंपरी-चिंचवड में कोरोना मरीजों (Corona Patients) की संख्या में कमी आ रही है। संक्रमण के मामले घट रहे हैं और मरीजों की संख्या तेजी से घट रही है। पिछले चार दिनों में 9,425 नए मरीज मिले हैं, जो कोरोना से उभरने वाले 18,516 मरीजों की संख्या के दोगुने से भी ज्यादा हैं, यह शहर के लिए राहत की बात है।

    पिंपरी-चिंचवड शहर में कोरोना और ओमीक्रोन संक्रमित मरीज भी मिल रहे हैं। इसी पृष्ठभूमि में नगर निगम ने आठ अस्पतालों के 24 केंद्रों पर एंटीजन और आरटीपीसीआर जांच की व्यवस्था की है। हालांकि मरीजों की संख्या बढ़ रही थी, लेकिन बिना लक्षण वाले मरीजों की संख्या ज्यादा से ज्यादा 90 फीसदी थी। इसके बाद हल्के लक्षणों वाले और बिना किसी परेशानी के मरीजों की संख्या आती है। गंभीर रूप से बीमार और वेंटिलेटर के मरीजों की संख्या दो से तीन फीसदी के बीच बनी हुई है। इसके चलते ज्यादातर मरीजों को आइसोलेशन में रखा जा रहा है।  हालांकि सारथी हेल्पलाइन के जरिए उनसे संपर्क किया जा रहा है।

    इस साल जनवरी के महीने को देखते हुए 26 जनवरी तक मरीजों की संख्या में तेजी से इजाफा हो रहा था। हालांकि उसके बाद से मरीजों की संख्या में कमी आ रही है। 26 जनवरी को कुल मरीजों की संख्या 28,580 थी। इनमें से 566 का अस्पताल में इलाज चल रहा था जबकि 28 हजार 580 लोग होम सेपरेशन में थे। अगले चार दिनों में 9,000 से ज्यादा मरीजों ने कोरोना को मात दी। इसलिए रविवार (30 जनवरी) को कुल मरीजों की संख्या 19 हजार 474 पर आ गई। इनमें से करीब 500 का अस्पतालों में इलाज चल रहा है। 18 हजार 974 मरीज होम आइसोलेशन में हैं। कोरोना का घटता संक्रमण शहरवासियों के लिए राहत की बात है, हालांकि इसके बावजूद सावधानी बरतना बेहद जरूरी है।