pune railway station

    पुणे: आपका नाम (Name) अथवा कंपनी का लोगो (Company Logo) पुणे रेलवे स्टेशन (Pune Railway Station) के बोर्ड पर नजर आ सकता है क्योंकि रेलवे बोर्ड ने को-ब्रांडिंग (Co-Branding) की सूची में पुणे रेलवे स्टेशन को शामिल किया है। ऐसे में जो व्यक्ति अपना नाम अथवा कपंनी का लोगो स्टेशन के प्रवेश द्वार के बोर्ड पर डलवाना चाहते है, उनकी ब्रांडिंग कराने की इच्छा अब पूरी हो सकती है, लेकिन इसके लिए एक तय रकम देनी होगी।

    नॉन फेयर रेवेन्यू के तहत रेलवे ने पुणे विभाग के चार रेलवे स्टेशन को को-ब्रांडिंग की सूची में शामिल किया गया है। इनमें पुणे, मिरज के साथ अन्य दो स्टेशन शामिल हैं।

    पुणे विभाग के चार स्टेशनों को शामिल किया गया है। जल्द ही इसकी प्रक्रिया पूरी की जाएगी। को-ब्रांडिंग की वजह से रेलवे की इनकम भी बढ़ेगी।

    -मनोज झंवर, जनसंपर्क अधिकारी, मध्य रेल्वे, पुणे विभाग

    तय की गई ये शर्तें

    • पुणे स्टेशन के प्रवेश द्वार, स्टेशन की इमारत, प्लेटफार्म के साइन बोर्ड और जिन-जिन जगहों पर पुणे लिखा गया है ऐसे सभी जगहों पर इच्छुकों के नाम नजर आएंगे।
    • इसकी अवधि एक से तीन वर्ष की होगी, लेकिन इसके लिए शब्दों की सीमा मतलब किसी का नाम कितने शब्दों में होगा, यह रेलवे तय करेगा।