deshmukh
File Pic

    मुंबई. मनसुख हिरेन (Mansukh Hiren) की रहस्यमयी मौत के मामले में फंसे पुलिस अधिकारी सचिन वझे  (Sachin Vaze) का तत्काल प्रभाव से क्राइम ब्रान्च (Crime Branch) से तबादला (Transfer) कर दिया गया है। विधान परिषद में गृहमंत्री अनिल देशमुख (Anil Deshmukh) ने यह घोषणा की है । इससे पहले मंगलवार को विधानसभा में नेता विपक्ष देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) ने मनसुख की मौत के लिए वझे को जिम्मेदार ठहराते हुए उन्हें गिरफ्तार करने की मांग की थी।

    वझे के तबादले की घोषणा के बावजूद विधान परिषद में विपक्षी दलों के सदस्यों ने जमकर हंगामा किया। नेता विपक्ष प्रवीण दरेकर ने मनसुख मामले में वझे को तुरंत निलम्बित कर उन्हें गिरफ्तार करने की मांग की। इस मांग को लेकर विपक्षी सदस्यों  ने सदन से वॉकआउट किया ।

    डेलकर मामले को लेकर काउंटर अटैक

    वहीं, निर्दलीय सांसद मोहन डेलकर के सुसाइड मामले को लेकर कार्रवाई तेज हो गई है। देशमुख ने कहा कि इस मामले में बीजेपी नेता प्रफुल पटेल के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। मंगलवार को  सांसद डेलकर की पत्नी, बेटे और बेटी ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और गृह मंत्री अनिल देशमुख से विधान भवन परिसर में मुलाकात की थी।

    पवार करेंगे ठाकरे से मुलाकात

    दूसरी ओर, महाराष्ट्र में तेजी से बदलते घटनाक्रम के बीच एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार दिल्ली से महाराष्ट्र के लिए रवाना हो गए हैं। ऐसी रिपोर्ट है कि वे आज शाम को मुख्यमंत्री ठाकरे की मुलाकात  करेंगे । सूत्रों के मुताबिक, मनसुख मौत के मामले को लेकर पवार ने सीएम ठाकरे के अलावा गृहमंत्री देशमुख से फोन पर बात की थी, जिसके बाद ही सचिन वझे के ट्रासंफर का फैसला लिया गया है।