High voltage drama between police and accused in MP, person trying to escape from custody got shot
Representative Photo

    ठाणे: ठाणे पुलिस (Thane Police) की आर्थिक अपराध शाखा ने अधिक मुनाफा (Profits) देने का झांसा देकर ठगी कर फरार पतपेढ़ी संचालक रविराज समानी को मंगलोर (Mangalore) से गिरफ्तार (Arrested) किया है। पकड़े गए समानी को ठाणे न्यायालय ने 22 नवंबर तक आर्थिक अपराध शाखा की हिरासत में भेजा है। अब तक किए गए जांच में 1 करोड़ 30 लाख 25 हजार की ठगी (Cheating) का मामला सामने आया है। 

    मिली जानकारी के अनुसार, रविराज ने ठाणे के कोलशेत में समानी को ऑपरेटिव क्रेडिट सोसाइटी शुरू की थी। उस समय उसने विभिन्न स्किम मे निवेश करने वालो को बहुत अधिक रिटर्न्स देने का लालच दिया था। अधिक मुनाफे की लालच में बहुत लोगों ने पतपेढ़ी में रुपए जमा किए थे। जब रिटर्न देने का समय हुआ तो रविराज रुपए देने में आनाकानी करने लगा था और एक दिन अचानक गायब हो गया। 

    पुलिस ने मंगलोर से किया गिरफ्तार

    कापुरबावड़ी निवासी प्रवीण राय ने 14 जनवरी 2020 को रविराज के खिलाफ कापुरबावड़ी पुलिस में मामला दर्ज किया था। तभी से वह फरार हो गया था। राय ने पतपेढ़ी में 5 लाख 64 हजार निवेश किया था। पुलिस रविराज से पूछताछ कर रही है। बाद में मामले की जांच आर्थिक अपराध शाखा को सौंपी गई थी। आर्थिक अपराध शाखा के एक अधिकारी को रविराज के मंगलोर में होने की खबर लगी थी। जिसके बाद सीनियर पीआई शंकर चिंदरकर के नेतृत्व में पुलिस की टीम मंगलोर गई और स्थानीय पुलिस की मदद से रविराज को मंगलोर के काईकाम्बा से धर दबोचा। आगे मामले की छानबीन जारी है।