Sensational allegation of NCP city president Ashish Damle, ward composition of Badlapur municipality caught in controversies

    बदलापुर : नगरपालिका चुनावों (Municipal Elections) के मद्देनजर स्थानीय नगरपालिका के माध्यम से वार्डों (Wards) की पुनर्रचना (Restructuring) कर उस कच्ची प्रभाग (Division) रचना (Composition) को मान्यता के लिए गुरूवार को जिलाधिकारी कार्यालय में जमा किया गया है। लेकिन राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के शहर अध्यक्ष कैप्टन आशिष दामले का आरोप है कि कुलगांव –  बदलापुर नगर पालिका के एक अधिकारी के इशारे पर शहर के कुछ नेताओं को फायदा पहुंचाने के लिए अंबरनाथ के एक निजी रिसॉर्ट  में नगरपालिका अधिकारियों द्वारा वार्डों का गठन और उन प्रभागों की सीमा निर्धारित की गई है। सबंधित अधिकारी पर कार्रवाई किए जाने की मांग दामले ने की है।

    गौरतलब है, कि स्थानीय नगरपालिका के जनप्रतिनिधियों का कार्यकाल मई  2020 में समाप्त हो चुका है। कोरोना के कारण चुनाव टल गए थे। लेकिन अब चुनाव कराने की प्रक्रिया के अधीन काम शुरू हो चुके है। पहले सिंगल वार्ड के तहत वार्ड की रचना की गई थी।  अब 2 वार्ड के पैनल से चुनाव होगा। पैनल पद्धति की वार्ड रचना का कच्चा प्रारूप 30 नवंबर तक महकमे को देना था जिसे स्थानीय नगरपालिका प्रशासन ने 25 नवंबर को ही जमा कर दिया है। इस नगरपालिका में 47 वार्ड है। 2 वार्ड बढ़ने है लेकिन वार्ड रचना के कच्चे प्रारूप में उसका उल्लेख नहीं है।

    शुक्रवार को उक्त मुद्दे को लेकर राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के शहर अध्यक्ष कैप्टन आशिष दामले ने पत्रकार परिषद का आयोजन किया था। अपने जनसंपर्क कार्यालय में प्रभाग रचना में बड़े पैमाने पर गड़बड़ी किए जाने का आरोप लगाते हुए दामले ने आगे कहा कि नगरपालिका के नगररचना विभाग के एक अधिकारी ने अपने अधीनस्थ टीम के सहयोग से अपने करीबी मित्रों को चुनाव में सीधा लाभ दिलाने के लिए यह सब किया है।

    प्रस्तावित वार्ड की सूची सोशल मीडिया में घूम रहा है

    राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी नेता के अनुसार कच्ची वार्ड रचना का प्रारूप देखने से ही यह स्पष्ट होता है कि यह सब जानबूझकर और किसी की राजनीति को समाप्त करने और अपनों को जिताने के लक्ष्य के कारण उसने यह हरकत की है। दामले ने आरोप लगाया कि चुनावी प्रक्रिया जो गुप्त रूप से किए जाने के आदेश चुनाव आयोग के होते है, लेकिन उस अधिकारी ने उसे मान्यता मिलने से पहले ही लीक कर दिया और अब वही प्रस्तावित वार्ड की सूची सोशल मीडिया में घूम रहा है। दामले ने उसकी प्रिंट भी पत्रकारों को दी। दामले ने बताया कि इस गंभीर मुद्दे को लेकर उन्होंने अपर जिलाधिकारी डॉ. वैदही रानाडे से फोन से संपर्क कर उन्हें सारी हकीकत बताई और ठाणे के जिलाधिकारी, मुख्यमंत्री सहित चुनाव आयोग को लिखित निवेदन के माध्यम से इस पूरे मामले की जांच कर दोषी अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई करने और तत्काल प्रभाव से वार्ड रचना प्रक्रिया से उसको हटाएं जाने की मांग की है।

    इस प्रकार की गई है प्रभाग रचना

    प्रभाग 1 – 2,  प्रभाग 22 – 23,  प्रभाग 17- 18, प्रभाग 15 – 27, प्रभाग 19 – 24, प्रभाग 4 – 6, प्रभाग 5 – 16, प्रभाग 9 – 10, प्रभाग 7 – 8, प्रभाग 13 – 14, प्रभाग 25 – 26, प्रभाग 45 – 46, प्रभाग 32 – 33, प्रभाग 34 – 35, प्रभाग 36 – 37, प्रभाग 40 – 41, प्रभाग 44 – 47,  प्रभाग 42 – 39, प्रभाग 43 – 28, प्रभाग 29 – 30, प्रभाग 11-12-31।