Unique movement of Nationalist Youth Congress, drivers who bought expensive petrol were honoured

    ठाणे : ईंधन (Fuel) की कीमतें दिन-ब-दिन बढ़ती जा रही हैं। बुधवार को ठाणे (Thane) में पेट्रोल (Petrol) की कीमत 112 रुपये हो गई है। ऐसे में एनसीपी नेता और गृह निर्माण मंत्री जितेंद्र आव्हाड (Jitendra Awhad) के आदेश पर एनसीपी प्रदेश अध्यक्ष महबूब शेख के सुझाव पर शहर अध्यक्ष आनंद परांजपे और युवा अध्यक्ष विक्रम खामकर के मार्गदर्शन में अनूठा आंदोलन किया गया। एनसीपी के युवा कार्यकर्ताओं ने पेट्रोल पंप पर भी ईंधन भरने वाले वाहन मालिकों का अभिनंदन करते हुए पेट्रोलियम दर वृद्धि का विरोध जताया। 

     वर्तमान समय में ईंधन की कीमतें आसमान छू गई हैं। ईंधन की कीमतों में वृद्धि को उलटने के लिए केंद्र सरकार द्वारा कोई उपाय नहीं किए जा रहे हैं। इसके विरोध में एनसीपी युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने ठाणे के तीन पेट्रोल पंपों पर ईंधन भरने वाले वाहन मालिकों को गुलाब और मिठाई देकर उनका अभिनंदन किया। इस मौके पर अभिषेक पुसालकर ने कहा कि महंगाई आसमान छू रही है। बेहतर भविष्य का सपना देख रही मोदी सरकार ने ईंधन की कीमतों को सोने की कीमतों के करीब लाने के लिए ‘कट” रचती दिखाई दे रही है। इसका खामियाजा आम लोगों को भुगतना पड़ रहा है। ऐसे में जनता को उसके दुखों का पता है फिर भी मजबूरी में इस प्रकार की महंगाई सह रहे है।

    ऐसे वाहन धारकों का एनसीपी कार्यकर्ताओं द्वारा गुलाब का फूल देकर और मिठाई खिलाकर अभिनंदन किया गया। उन्होंने कहा कि अगर आम जनता आज महंगाई के खिलाफ बगावत नहीं करती है, तो हमारे लिए कल जीना असहनीय होगा। इसलिए यह आंदोलन वाहन मालिकों को जागरूक करने के लिए किया जा रहा है। उन्होंने यह भी संकेत दिया कि अब से आंदोलन तेज होगा। इस दौरान बड़ी संख्या में एनसीपी के कार्यकर्ता उपस्थित थे।