RTE

  • वेटिंग लिस्ट के बच्चों को मिलेगा अवसर

वर्धा. जिले में आरटीई प्रवेश प्रक्रिया के तहत इस बार प्रवेश की अंतिम तिथि तक 800 विद्यार्थियों का प्रवेश निश्चित हो चुका है. जबकि 308 लाभार्थियों ने स्कूलों में प्रवेश से मुंह फेर लिया़ उक्त सीटों पर अब वेटिंग लिस्ट में होनेवाले बालकों को अवसर दिया जाएगा. इसकी प्रक्रिया शीघ्र शुरू की जाएगी, ऐसी जानकारी शिक्षा विभाग ने दी.

बता दें कि, गरीब व जरूरतमंद परिवारों के बच्चे शिक्षा से वंचित ना रहे, इसलिए सरकार ने आरटीई प्रवेश प्रक्रिया चलायी है़ इसके तहत अनुदानित व बिना अनुदानित निजी कान्वेन्ट में 25 प्रश सीटें आरक्षित रखी जाती है़ इस वर्ष जिले में करीब 114 स्कूलों में कुल 1 हजार 115 सीटें आरक्षित थी़ इसके लिए जिले भरे से 3 हजार 914 अभिभावकों ने आनलाइन पोर्टल पर आवेदन किए थे.

30 मार्च को खोला गया ड्रा

30 मार्च को 1108 सीटों के लिए ड्रा खोला गया़ उतने ही विद्यार्थियों को वेटिंग लिस्ट पर रखा गया था़ 4 अप्रैल से प्रवेश प्रक्रिया आरंभ की गई़ जरूरी कागजातों के साथ अभिभावकों को स्कूलों में पहुंचने की अपील की गई थी़ पहले प्रवेश की अवधि 20 अप्रैल थी़ इसे बढ़ाकर 29 अप्रैल की गई़ परंतु पुन: किसी कारणवश प्रवेश की अंतिम तिथि 10 मई कर दी गई.

कई बालकों पालक नहीं पहुंचे

शिक्षा विभाग के अनुसार प्रवेश की अंतिम तीथी तक जिले में कुल 800 लाभार्थी विद्यार्थियों के संबंधित स्कूलों में प्रवेश निश्चित कर दिये गए है़ं  जबकि 308 बालकों के अभिभावक प्रवेश कराने के लिए पहुंचे ही नहीं. 

अब वेटिंग लिस्ट बाकी

10 मई प्रवेश की अंतिम तिथि होने से इसके बाद वेटिंग लिस्ट में होनेवाले विद्यार्थियों को खाली सीटों पर प्रवेश दिया जाएगा, ऐसा बताया गया था़ परंतु अब तक इस संबंध में किसी प्रकार की सूचना वरिष्ठ स्तर से प्राप्त नहीं हो पायी है़ जैसे ही सूचना प्राप्त होगी, वैसे ही वेटिंग लिस्ट वाले बालकों को मोबाइल पर संदेश भेजे जाएंगे, ऐसा जिप के प्राथमिक शिक्षा विभाग ने जानकारी दी है.